Home विद्युत ग्रामीणों ने जनजातीय कार्य मंत्री और मुख्यमंत्री का किया पुतला दहन

ग्रामीणों ने जनजातीय कार्य मंत्री और मुख्यमंत्री का किया पुतला दहन

658
0

बिजली समस्या से त्रस्त आंदोलित और आक्रोशित 30 गांव के ग्रामीणों ने जनजातीय कार्य मंत्री मीना सिंह और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का पुतला दहन किया और आगे चका जाम और कलेक्ट्रेट घेराव की चेतावनी दिया।

उमरिया – जिले के मानपुर विधानसभा क्षेत्र 90 के ग्राम चिल्हारी से लगे 30 से 35 गांव के ग्रामीण लगातार बिजली समस्या से परेशान होने के कारण काफी आक्रोशित हैं। कहीं 4 साल से ट्रांसफार्मर जला हुआ है तो कहीं कोई समस्या बनी हुई है। इससे व्यथित किसानों ने 14 सूत्रीय मांगों को लेकर जिला प्रशासन को 2 दिन पूर्व ज्ञापन के माध्यम से सूचित किया था कि यदि हमारी मांग पूरी नही होगी तो हम आंदोलन करने को बाध्य हो जाएंगे।

प्रदेश सरकार की कैबिनेट मंत्री मीना सिंह के विधानसभा क्षेत्र मानपुर 90 में लगातार बिजली की बेतहाशा कटौती से किसान परेशान होने के कारण अनेकों बार जिले के कलेक्टर, विद्युत विभाग के अधिकारियों को ज्ञापन देने के बाद मंत्री के बंगले का भी घेराव कर त्रस्त हो चुके तब किसान महा संघ के बैनर तले क्षेत्र के किसान एकत्रित होकर ग्राम चिल्हारी में बिजली समस्या को लेकर बड़ा आंदोलन किये और जिले के किसी भी प्रशासनिक अधिकारी का ज्ञापन लेने के लिए इंतजार करते रहे लेकिन कोई भी अधिकारी के न पहुंचने के कारण आक्रोशित किसान मंत्री मीना सिंह, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और भाजपा सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए, मंत्री मीना सिंह और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का पुतला दहन किये। हालांकि अचानक हुए इस पुतला दहन के बाद पुलिस अपने मंत्री और मुख्यमंत्री का पुतला छुड़ाने का प्रयास तो की लेकिन सफल नही हो पाई।

इस मामले में किसान आंदोलन को समर्थन देने गई महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष अंजू सिंह ने बताया कि हम लोगों के द्वारा जो समय दिया गया था उस समय मे कोई भी अधिकारी ज्ञापन लेने नही आये, हमारे क्षेत्र की जनता बिजली के लिए त्राहि त्राहि कर रही है, इसलिए हम लोगों ने मंत्री मीना सिंह जी और मुख्यमंत्री जी का पुतला दहन किया है। हमारी सबसे बड़ी समस्या बिजली है, जिसकी कमी से किसान और सभी परेशान हैं, बिजली नही तो कुछ नही है। मुख्यमंत्री जी जहां बिजली देते हों वो जाने लेकिन हमारे क्षेत्र में नही देते हैं। हमारी समस्या का हल नही होगा तो हम चका जाम करेंगे, कलेक्ट्रेट का घेराव करेंगे।

वहीं आदिवासी महिला नेत्री और जनपद सदस्य रोशनी सिंह ने कहा कि आज किसान बिजली की समस्या से इतना परेशान है कि आत्महत्या करने की सोच रहा है, बच्चे पढ़ाई नही कर पा रहे हैं, फसल सूख रही है। मानपुर क्षेत्र से विधायक और मंत्री होने के बाद मीना सिंह जी ने आज तक क्षेत्र के लिए क्या किया है ? यदि कुछ की होती तो जनता परेशान नही होती, जब उनके विधानसभा क्षेत्र का यह हाल है तो प्रदेश का क्या हाल होगा, अंदाजा लगाया जा सकता है। जिले का कोई भी प्रशासनिक अधिकारी ज्ञापन लेने नही आया जिससे जनता और भी आक्रोशित हो गई और जनजातीय कार्य मंत्री मीना सिंह जी और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी का पुतला दहन की। यदि हमारी समस्या हल नही होती है तो किसान अब आत्महत्या नहीं करेगा बल्कि चका जाम करेगा, कलेक्ट्रेट का घेराव करेगा, हर सम्भव विरोध करेगा और आने वाले विधानसभा चुनाव में मुंहतोड़ जबाब देगा। चिल्हारी क्षेत्र को उपेक्षित करने वाली मंत्री को इस बार इस क्षेत्र की जनता अपनी शक्ति दिखाएगी कि एक वोट का क्या महत्व होता है।

गौरतलब है कि मानपुर 90 विधानसभा क्षेत्र से विधायक और प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री मीना सिंह के द्वारा चिल्हारी क्षेत्र की लगातार उपेक्षा करने के कारण भारी विरोध है और यदि फिर से भाजपा मानपुर 90 विधानसभा क्षेत्र से अपना प्रत्याशी घोषित करती है तो निश्चित है कि भाजपा को अपनी एक सीट गंवानी पड़ेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here