Home अवैध उत्खनन परिवहन रेत के अवैध उत्खनन परिवहन पर कार्यवाही में 10 ट्रैक्टर ट्रॉली जप्त

रेत के अवैध उत्खनन परिवहन पर कार्यवाही में 10 ट्रैक्टर ट्रॉली जप्त

474
0

उमरिया – जिले में रेत का ठेका खत्म होते ही खनिज माफियाओं की चांदी हो गई।
30 सितम्बर को आर एस आई स्टोन वर्ड का ठेका समाप्त होने के चलते खनिज विभाग ने टेण्डर प्रक्रिया प्रारंभ कर दिया था, दूसरी कम्पनी द्वारा व्यवसायिक प्रतिस्पर्धा के चलते काफी मंहगे दर टेण्डर डाला था और उस कम्पनी का टेण्डर स्वीकृत भी हो गया था। बाद में कम्पनी द्वारा हिसाब लगाने के बाद उसकी हिम्मत टूट गई, जिसके चलते जिले की सारी खदानों को सरेंडर कर दिया। अभी की स्थिति में सारी खदानें खनिज विभाग के संरक्षण में हैं। इसका फायदा उठाते हुए रेत माफिया पुरजोर से सक्रिय हो गए। ऐसा नही है कि मात्र राजस्व क्षेत्र से अवैध उत्खनन और परिवहन कर रहे हैं। इन माफियाओं के लिए वन विकास निगम का क्षेत्र हो या वन विभाग का हो या राजस्व का सभी बराबर है।


हां यह अलग बात है कि वन विकास निगम के रेंजर कुंभकर्णी निद्रा में व्यस्त हो या फीलगुड कर रहे हों। वन विकास निगम का चाहे चंदिया रेंज हो या उमरिया सभी रेंजर, एसडीओ, डीएम अपनी मस्ती में मस्त हैं। अभी 4 दिन पहले ही अवैध उत्खनन की सूचना पर चंदिया रेंजर कार्रवाई करने चले गए और किसी तरह अपनी जान बचाये, जबकि अवैध उत्खनन का क्षेत्र वन विकास निगम के रेंज चंदिया अंतर्गत आता था और चंदिया रेंजर योगेश गुप्ता को पता ही नही, आखिर कार्रवाई रेगुलर के रेंजर रवि पांडेय को करनी पड़ी। वहीं हाल बीती रात का रहा वन विकास निगम के उमरिया रेंज से भरपूर अवैध उत्खनन, परिवहन जोरो पर जारी है। अवैध उत्खनन की सूचना पर वन विभाग की टीम एसडीओ कुलदीप पाण्डेय के नेतृत्व में जैसे ही ग्राम तखतपुर पहुंची वहां वन विकास निगम के क्षेत्र स्थित डेगहरा नाला से रेत का अवैध उत्खनन कर रहे ट्रैक्टर भागना शुरू कर दिए जिसमे दो ट्रैक्टर ट्राली पकड़ में आये बाकी भाग गए। यहां भी वन विकास निगम की टीम नही पहुंची।


इसके बाद खनिज एवम पुलिस दल द्वारा संयुक्त रूप से दिनांक 11.10.2023 को तड़के उजान में खनिज रेत के अवैध परिवहन करते 04 ट्रेक्टर ट्राली जप्त किए। सुबह तड़के की गई संयुक्त कार्यवाही में चार वाहन ट्रेक्टर जो उजान के पटपरिया नाला से रेत भरकर आ रहे थे, उनको योजना बनाकर पकड़ा गया है। चार वाहनों में वाहन स्वामी अभिषेक शुक्ला , अनुपम शुक्ला, रोहित महोबिया और इंद्रपाल केवट के ट्रेक्टर ट्राली शामिल हैं। इसी तरह दिनांक 07.10.2023 को भी जिला मुख्यालय से लगे ग्राम खेरवा खुर्द में भी संयुक्त कार्यवाही में 03 ट्रेक्टर ट्राली रेत के अवैध उत्खनन परिवहन में जप्त किए गए हैं। ग्राम ताला बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में भी दिनांक 09.10.2023 को रेत के अवैध उत्खनन में 01 ट्रेक्टर ट्राली को खनिज विभाग द्वारा जप्त किया गया है।

खनिज और पुलिस की संयुक्त टीम में दिवाकर चतुर्वेदी सहायक खनिज अधिकारी, राजेश चंद्र मिश्रा नगर निरीक्षक कोतवाली, सहा उप निरी प्रभाकर सिंह, नर्बद सिंह आर्मो प्रभारी खनिज निरीक्षक, प्रधान आरक्षक ओमकार सिंह, प्रधान आरक्षक राजकुनार गुरुदे, प्रधान आरक्षक महावीर सिंह, आरक्षक रवि दीवान, सैनिक जीवन लाल, सैनिक बी के सिंह, विनोद रोतेल शामिल रहे।
गौरतलब है कि जिला मुख्यालय के इर्दगिर्द तो खनिज, पुलिस, वन सभी विभागों के लोग कार्रवाई कर रहे हैं लेकिन दूरस्त इलाकों में जैसे इंदवार, अमरपुर, पनपता, चिल्हारी, मानपुर, बकेली, पडवार, मसीरा, बल्हौण्ड, जरवाही, पाली ब्लाक के बेली, चौरी, घुनघुटी आदि, करकेली ब्लाक के बड़ेरी, महिमार, घुलघुली, अखडाड, बिलासपुर, सलैया, नरवार, कल्दा, खैरभार, उंडा, उमरार नदी लगभग जिले के हर क्षेत्र से चाहे वन विकास निगम का हो या राजस्व का बेधड़क अवैध उत्खनन और परिवहन जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here