Home धर्म घर घर पूजे गए नाग देवता और हुआ दंगल का आयोजन

घर घर पूजे गए नाग देवता और हुआ दंगल का आयोजन

537
0

एक ओर जहां घर घर नाग देवता का हुआ श्रद्धा भक्ति के साथ पूजन कर वहीं नगर में कुश्ती का भी आयोजन हुआ पिछले 60 वर्षों से हो रहा कुश्ती का आयोजन

उमरिया – समूचे देश सहित आज जिला मुख्यालय उमरिया व ग्रामीण अंचलो में नागपंचमी पर्व पर श्रद्धा के साथ घर- घर नागदेवता की पूजा अर्चना की गई। ज्ञात हो कि सनातन धर्मी प्रातः से ही स्नान आदि से निवृत होकर भगवान शिव के मंदिरों में जाकर भक्ति पूर्वक पूजा आराधना किए।

वहीं घरों में नाग देवता की भित्ति चित्र बनाकर विधिवत पूजा अर्चना कर दूध अर्पित किया गया।नागपंचमी पर्व के दौरान मान्यता के अनुसार श्रद्धालु बामी वाले स्थानों में जाकर दूध व अन्य सामग्री समर्पित कर नागदेवता से प्रार्थना किये। इस दौरान शहर व ग्रामीण अंचलों में सारा दिन श्रद्धालुओं द्वारा पूजा-अर्चना का क्रम जारी रहा।

कैम्प में कुश्ती का आयोजन
नागपंचमी पर्व के अवसर पर प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी शहर के एक्सीलेंस स्कूल के सामने शीतला सेवा समिति कैम्प उमरिया के द्वारा दंगल का आयोजन किया गया।

जिसमे शहर के अलावा आसपास ग्रामीण अंचलो से पहलवान आकर दंगल में हिस्सा लिए। छोटे बच्चों से लेकर युवाओ ने भी आयोजित कुश्ती में अपने अपने दाव पेंच का हुनर दिखाया।

कुछ पहलवानो की कुश्ती काफी देर तक चली और उठा- पटक के साथ जीत हार का फैसला भी देर से हुआ। कुश्ती में विजेता उपविजेता पहलवानो को पुरस्कार सहित नगद राशि प्रदान कर कमेटी द्वारा उत्साह वर्धन किया गया। बता दें कि आयोजित दंगल में भारी संख्या में लोग एकत्रित होकर छोटे बड़े पहलवानो की कुश्ती का आनन्द लेते हुए उनका उत्साह बढ़ाया।

वही पहलवानो ने दंगल के दौरान अपने हुनर के साथ कुश्ती के एक से बढ़कर एक दाव – पेच दिखाकर दर्शकों से खूब वाहवाही लूटी। समिति द्वारा बताया गया कि यहां पिछले साठ वर्षों से निरन्तर कुश्ती का आयोजन किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here