Home भ्रष्टाचार जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

107
0

जिले में एक ऐसे officer भी हैं जिनके पास अकेले 9 विभाग का प्रभार है, सरकार ने भी उनकी योग्यता का लोहा मान कर सारे प्रभार सौंप दिया।

जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

Umaria – जिले के ऐसे एकलौते अधिकारी के बारे में आज आपको जानकारी दे रहे हैं, जिसको जान कर आप भी चौंक जाएंगे। जी हां उनके ऊपर निर्वाचन आयोग से लेकर सभी मेहरबान हैं। इनके ऊपर जिले के collector के आदेश का भी असर नही होता है। इनकी अपनी एक टीम है जो भ्रष्टाचार में डूबी हुई है और सभी मिल कर कार्य करते हैं।

जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

इनके पावर का खुलासा तब हुआ जब डिप्टी डायरेक्टर एग्रीकल्चर ने जिले के collector के आदेश का हवाला देकर अपने कर्मचारी को वापस मांगा। ऐसा नही है कि इनकी शिकायत नही हुई है, इनकी शिकायत जिले के कलेक्टर से लेकर प्रमुख सचिव वित्त एवं निर्वाचन आयोग तक से हो चुकी है लेकिन कोई फर्क नही पड़ा।

जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

जिला पंचायत अध्यक्ष, जनपद पंचायत अध्यक्ष, अखिल भारतीय हिन्दू सेवा दल के जिला अध्यक्ष सभी लोग कर चुके हैं लेकिन इनके प्रभुत्व के आगे सभी बौने साबित हुए। ऐसा भी नही है कि इनको इनके विभाग से संबंधित ही प्रभार दिया गया हो, इनको वह प्रभार भी दिया गया है जिसके लायक यह नही हैं।

जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

ये हैं अखिलेश पांडेय जिला कोषालय अधिकारी, वैसे तो इनकी मूल पदस्थापना उमरिया जिले में लेखाधिकारी के पद पर आदेश क्रमांक 1/5ए/(7)/2019/ई दिनांक 05/07/2019 को मध्यप्रदेश ग्रामीण विकास प्राधिकरण इकाई क्रमांक 1 उमरिया में हुई थी। उसके बाद इनके द्वारा अपने माया जाल के ऐसा उपयोग किया गया कि आज इनके पास 9 विभाग का अकेले प्रभार है। जिसमे से assistant Commissioner जन जातीय कार्य विभाग, परियोजना प्रशासक जन जातीय कार्य विभाग बांधवगढ़, जिला कोषालय अधिकारी, जिला पेन्शन अधिकारी, जिला पंचायत का लेखाधिकारी, मध्यप्रदेश ग्रामीण विकास प्राधिकरण लेखाधिकारी, स्वास्थ्य विभाग की फाइलों में बतौर एकाउंटेंट, जिला पंचायत निर्माण शाखा प्रभारी, खनिज विभाग का DMF मद प्रभारी। अब आप खुद अनुमान लगा सकते हैं कि इनको यदि जिले की मास्टर चाभी कहा जाय तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी।

जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

इनका एक और भी कार्य है जो जन जातीय कार्य विभाग के विवादित बाबू बिजेन्द्र सिंह के सहयोग से होता है। ये प्रतिदिन अपने निजी वाहन से शहडोल मेडिकल कालेज रोड कुदरी से आना – जाना करते हैं। वैसे तो 2019 में Umaria जिले में पदस्थापित हुए और शहडोल मेडिकल कालेज रोड में एक से डेढ़ एकड़ जमीन में आलीशान भवन भी बनवा लिए और दो – दो गाड़ियों से बदल – बदल कर आना जाना करते हैं। खैर यह सब तो ईमानदारी से काम करने वाले के लिए कोई बड़ी बात नही है फिर जिसके पास 8 – 9 विभाग का प्रभार हो। हां हम आपको बता रहे थे ये शहडोल जाते समय किसी भी ट्राइबल हॉस्टल का निरीक्षण कर लेते हैं और ईमानदारी दिखाते हुए वहां के अधीक्षक को सस्पेंड कर देते हैं बाद में बिना बहाल किये उसको प्रभार भी दे देते हैं, खैर इसका खुलासा अगले अंक में करेंगे।

जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

अभी तो बड़ी बात यह है कि किसान कल्याण एवं कृषि विभाग करकेली में पदस्थ सहायक वर्ग 3 अजीत पटेल जो 2017 में जुगाड़ लगा कर जिला पंचायत पहुंच गए थे और तब से लगातार अपने मूल विभाग में वापस नही आये। अब वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी कार्यालय विकास खण्ड करकेली के दो कर्मचारी इस माह सेवा निवृत्त हो रहे हैं और उनके बाद उस कार्यालय को खोलने वाला कोई नही रहेगा, जिसके चलते Deputy Director Agriculture ने पत्र लिख कर जिले के कलेक्टर से अपना कर्मचारी वापस मांगा तो कलेक्टर महोदय ने दिनांक 12/04/2024 को मूल कार्यालय को वापस करने का आदेश जारी कर दिया लेकिन प्रभारी सहायक परियोजना प्रशासक जिनका प्रभार भी अखिलेश पांडेय के पास ही है, Collector के आदेश की उपेक्षा करते हुए वापस करने को तैयार नही हैं। जिसके चलते उप संचालक कृषि को मजबूर होकर पत्र लिखना पड़ा कि अजीत पटेल सहायक वर्ग 3 को तत्काल इस कार्यालय के लिए भारमुक्त करें अन्यथा उनका वेतन आहरण नही किया जाएगा जिसके लिए जिम्मेदार आप होंगे।

जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

अब सवाल यह उठता है कि State government और जिले के अधिकारी इनमें ऐसा क्या खास देखे जो इनको 9 विभाग का प्रभार सौंप दिए, क्या प्रदेश, सम्भाग और जिले में कोई ऐसा योग्य अधिकारी नही है जिसको अन्य प्रभार दिए जाएं या फिर कुछ और बात है।

जिले की Master key अकेले 9 विभाग का प्रभारी मेहरबान शासन प्रशासन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here