Home कार्रवाई आबकारी उड़नदस्ता की कार्रवाई

आबकारी उड़नदस्ता की कार्रवाई

539
0

हिलाओं समेत आधे दर्जन लोगों को अवैध शराब विक्रय करते पकड़ कर खानापूर्ति हुई लेकिन पैकारों पर नही हुई कोई कार्रवाई

उमरिया – जिला आबकारी अधिकारी रिनी गुप्ता की अगुवाई में जिला उड़नदस्ता प्रभारी दिनकर सिंह तिवारी ने शराब के क़ई अवैध ठिकानों पर दबिश दी गई, इस दौरान महिलाओं समेत आधे दर्जन आरोपी धरे गए।इन आरोपियों के विरुद्ध आबकारी अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई है। जिला उड़नदस्ता प्रभारी दिनकर सिंह तिवारी ने बताया कि कलेक्टर कृष्ण देव त्रिपाठी के निर्देशन एवम जिला आबकारी अधिकारी रिनी गुप्ता के मार्गदर्शन में आबकारी वृत्त नौरोजाबाद में मदिरा के अवैध विक्रय एवम संग्रहण के विरुद्ध आबकारी विभाग उमरिया द्वारा कार्रवाई की गई।

कार्रवाई के दौरान ग्राम करकेली में नीलम मांझी के किराना दुकान से 11पाव गोवा व्हिस्की, 8पाव देसी मदिरा प्लेन 4बीयर, ग्राम उजान में गुड़िया केवट और प्रेमबाई धूलिया के कब्जे से क्रमशः 4एवम 90पाव देशी मदिरा प्लेन, ग्राम सिंहपमर में नरेन्द्र राठौर के आधिपत्य से 45पाव देसी मदिरा प्लेन एवम 14बीयर तथा लक्ष्मी गुप्ता के आधिपत्य से 27पाव देशी मदिरा प्लेन एवम 10बीयर, ग्राम भुंडी में श्रवन कुमार राय की किराना दुकान से 18बीयर एवम 3पाव देशी मदिरा प्लेन जप्त कर आबकारी अधिनियम की धारा 34(1) एवम 36के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किए गए।

इस कार्रवाई में जिला आबकारी अधिकारी रिनी गुप्ता, उड़नदस्ता प्रभारी दिनकर सिंह तिवारी, आरक्षक विद्या सिंह, कविता सिंह एवम नगर सैनिक ज्ञानेंद्र मिश्रा तथा इंद्रभान सिंह उपस्थित रहे। कार्रवाई में कुल 6 प्रकरण पंजीबद्ध किए गए जिसमे कुल 61 बल्क लीटर मदिरा जप्त की गई।


गौरतलब है कि आबकारी विभाग द्वारा की गई कार्रवाई से तो साफ हो गया कि शराब ठेकेदार द्वारा गांव – गांव अवैध रूप से शराब पहुंचाई और विक्रय करवाई जा रही है। मीडिया में लगातार खबरें प्रकाशित होने के बाद जिला आबकारी अधिकारी द्वारा खानापूर्ति करने के लिए छोटी से कार्रवाई करवा कर औपचारिकता निभा दी गई, लेकिन बड़ा सवाल अवैध पैकारी का है जिस पर कोई कार्रवाई नही की जा रही है। यदि अवैध पैकारी पर रोक लगा दी जाय तो गांवों तक शराब पहुंचना बन्द हो जाएगी। यह तो नही पता कि कब जिला आबकारी अधिकारी और ठेकेदार की सांठ गांठ समाप्त होगी और ईमानदारी से कार्रवाई करेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here