Home राज्य शबरी महाकुम्भ में आये कमल नाथ – सुरेन्द्र त्रिपाठी –

शबरी महाकुम्भ में आये कमल नाथ – सुरेन्द्र त्रिपाठी –

538
0

 

उमरिया 24 फरवरी – जिला मुख्यालय में कोल समाज के  शबरी महाकुम्भ में पहुंचे प्रदेश के मुखिया कमलनाथ, लेकिन सारा  कार्यक्रम अव्यवस्थाओ की  भेट चढ़ गया हवाई पट्टी में ही कांग्रेसी नेताओं और पुलिस के बीच हुई झूमा – झटकी, बडवारा विधायक बसंत सिंह को नहीं जाने दिया जवाई पट्टी के भीतर, उसके बाद  कार्यक्रम स्थल में पहुंचते ही कार्यकर्ताओ में अफरा तफरी फ़ैल गई जिस कारण पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी यहाँ तक की मंच में भी कुर्सियों के आभाव पर प्रथम पंक्ति में भी अव्यवस्था देखने को मिली, वहीं जम कर लोगों की जेबें भी कटी, पत्रकारों तक को नहीं बख्शा जेबकतरों ने |

कार्यक्रम के पहले चरण में माता शबरी के तैल चित्र के सम्मुख पूजा अर्चना कर मुख्य मंत्री का स्वागत कार्यक्रम संम्पन्न हुआ तत्पश्चात मुख्यमंत्री अपने उद्बोधन में अपने 60 दिनों का हिसाब गिनाते रहे और अपने आप को देश का सबसे अच्छा मुख्य मंत्री साबित करने में लगे रहे वहीँ देश के प्रधानमंत्री को कोसते हुए कहे कि डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया व न्यू इंडिया 2 करोड़ बेरोजगारों को रोजगार देने, 15 लाख देने के वादा कर देश की जनता को बेवकूफ बनाने का काम किया है इतना ही नहीं अब केंद्र सरकार द्वारा किसानों के खाते में 6 हजार देने की बात को भी लेकर कोसते रहे बातो को लेकर मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री को जमकर कोसते नजर आये तथा प्रदेश में अपनी सरकार की तारीफ़ करते हुए कहे कि हमारी सरकार घोषणा करने वाली सरकार नहीं है हम तो वादा को पूरा करने में भरोसा करते हैं |वहीँ कोल समाज को अति पिछड़ा वर्ग में शामिल करने के लिए केंद्र में भी कांग्रेस की सरकार बनाने का आह्वान किये |

जहाँ एक ओर पूरे कार्यक्रम में भारी अव्यवस्था देखी  गई वहीँ मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में सम्मिलित होने आये कटनी जिले के बड्वारा विधानसभा  से कांग्रेस विधायक बसंत सिंह एवं अन्य वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओ को कार्यक्रम स्थल पर जाने से रोका गया व पुलिस एवं कार्यकर्ताओ के बीच हलकी झूमा – झटकी भी हालांकि मंच के नजदीक सी एम के प्रोटोकाल का भी ध्यान नहीं रहा

                                                                                                                                                                हुई |

वहीँ प्रदेश के जन जातीय कार्य मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री ओमकार सिंह मुख्य मंत्री की तरफ से कोल विकास अभिकरण को प्राधिकरण में बदलने का वादा किया साथ ही कोल समाज को अति पिछड़ी जन जाती का दर्जा देने के मामले में केंद्र सरकार के ऊपर ठीकरा फोड़ते हुए कहे कि हम तो तैयार हैं लेकिन मंजूरी केंद्र सरकार से मिलनी है इसलिए आप लोग लोक सभा चुनाव में हमारा साथ दीजिये और हम सरकार बनते ही कोल समाज को अति पिछड़ी जाती में शामिल करवा देंगे |

इतना ही नही पूर्व मुख्य मंत्री शिवराज सिंह की तर्ज पर ओमकार मरकाम भी वर्ग विरोधी बात करते नजर आये, इनने खुले आम कहा कि वर्त्तमान में जो हमको रोकने वाले ताकत हैं, तो हमको एक झाडू की तरह इकट्ठा होना पडेगा, जिस तरह झाडू अगर इकट्ठा है तो कचड़े को साफ़ कर देता है और अगर खुल गया तो खुद कचडा बन जाता है इसलिए कोल, गोंड, बैगा आदिवासी एक हो जाओ और हमारा तो कहना है आदिवासियों का नारा है कांग्रेस पार्टी हमारा है | वहीँ पूर्व विधायक देव राज पटेल अपने साथियों के साथ पार्टी की सदस्यता भी लिए |

गौरतलब है कि 15 सालों के बाद कांग्रेस सत्ता में आई और अभी से उसके मंत्रियों के बोल बदल गए तो लोकसभा चुनाव में उसके परिणाम भी उसी तरह आएंगे |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here