Home राज्य मछलियों का अवैध शिकार जोरों पर – सुरेन्द्र त्रिपाठी

मछलियों का अवैध शिकार जोरों पर – सुरेन्द्र त्रिपाठी

509
0

 

उमरिया 25 जुलाई – जिले के उमरार डैम में हो रहा है प्रतिबन्ध के बाद भी मछली का अवैध शिकार | मत्स्य विभाग बना अनजान, खुले आम बेच रहे हैं लोग मछलियाँ |

उमरिया जिले भर नहीं प्रदेश भर में 15 जून से 15 अगस्त तक मत्स्याखेट प्रतिबंधित कर दिया जाता है क्योंकि यह समय उनके प्रजनन काल का होता है | उमरिया जिले में भी जिले के कलेक्टर द्वारा मत्स्याखेट प्रतिबंधित कर दिया गया था लेकिन मत्स्य विभाग की मिली भगत के चलते उमरार डैम में खुली आम सैकड़ों की तादात में लोग दिन में मछली मारने का अवैध काम करने में लगे हैं और जिले के उप संचालक मत्स्य विभाग एस के सोंधिया को पता ही नहीं है कि जिला मुख्यालय में मत्स्य पालन का बड़ा केंद्र उमरार डैम है और वहां अवैध रूप से खुले आम मछलियों का शिकार होता है, मत्स्य विभाग का पूरा का पूरा अमला मछुआरों से मिल कर प्रतिबंधित समय में मछली का शिकार करवाता है | जब इस बारे में उनसे बात किया गया तो अनजान बनाते हुए कहे कि अभी आपके द्वारा हमारी जानकारी में लाया गया है हम जाकर देखते हैं और जो भी मिलता है उस पर कार्यवाई करेंगे |

गौरतलब है कि जिले में मछलियों का शिकार मत्स्य विभाग की सहमति से ही होता है और अधिकारी अनजान बने रहते हैं ऐसे में मछलियों का प्रजनन कैसे होगा |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here