Home क्राइम पेट्रोल डाल कर लगाया आग सतर्कता से बची जान और दुकान

पेट्रोल डाल कर लगाया आग सतर्कता से बची जान और दुकान

181
0

उमरिया – जिले में अपराध घटने का नाम नही ले रहे हैं, अलग – अलग तरीके के अपराध लगातार सामने आते जा रहे हैं। अभी तक आप चोरी, डकैती, लूट, अपहरण, बलात्कार, हत्या और ऐसे ही अपराध सुने होंगे। अब जिले में और भी अपराध सामने आने लगे हैं। ऐसा ही एक घटना 8 – 9 नवम्बर की दरम्यानी रात लगभग डेढ़ बजे सामने आई।

सारी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है, जिसमे साफ दिख रहा है कि एक युवक मुंह बांध कर सफेद स्वेटर काली पैंट पहने हुए राजस्थान बीकानेर मिष्ठान के सामने घूमता है फिर वहीं बैठ जाता है बाद में वहां से उठता है कुछ कदम चल कर वापस लौटता है और बॉटल से दुकान की शटर के नीचे पेट्रोल फेंकता फिर आगे जाकर वहां से वापस आता है और माचिस की तीली जला कर दुकान के शटर के पास फेंक देता है, जिससे तेजी से आग लग जाती है और वो आग बाहर ही नही भीतर भी लग जाती है, क्योंकि पेट्रोल दुकान के भीतर भी बह कर चला जाता है।
अब मामला यहीं नही रुकता है दुकान के भीतर राजस्थान बीकानेर मिष्ठान के मालिक गौतम राजप्रोहित और उनके 3 कर्मचारी सोते रहे। जैसे ही आग की लपट उन तक पहुंची तत्काल वो लोग दुकान में रखे अग्निशमन यंत्र से आग बुझाने लगे और किसी तरह आग पर काबू पा लिए इसमें दुकान का विद्युत मीटर, दीवार, पेंटिंग्स और कुछ परदे जल गए, सबसे अच्छी बात यह रही कि दुकान मालिक और कर्मचारी बच गए।

दुकान मालिक गौतम राजप्रोहित ने बताया कि हमने कोतवाली उमरिया में इस मामले की लिखित सूचना दिया है, कोतवाली से एक साहब जांच करने भी आये थे हमने उनको अपने यहां के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी दिखाया है लेकिन अभी तक एफआईआर नही की गई है।

वहीं इस मामले में कोतवाली टी आई राजेश चन्द्र मिश्रा ने बताया कि हमारे पास लिखित सूचना राजस्थान स्वीट्स वालों ने दिया है हम जांच करवा रहे हैं आरोपी के शिनाख्त का प्रयास कर रहे हैं, जैसे ही शिनाख्त हो जाएगी हम तत्काल कार्रवाई करेंगे।

सबसे बड़ी बात यह है कि पुराना बस स्टैंड चौक में रात में भी पुलिस की डियूटी रहती है और लगभग हमेशा लोगों का आना जाना लगा रहता है, उसके बाद ऐसी घटना होना समझ से परे है, इतना ही नही लगभग 2 वर्ष पूर्व इसी दुकान के बगल में सरदार बलबीर सिंह हंसपाल की स्कूटी में भी इसी तरह होली के समय मे पेट्रोल डाल कर आग लगा दी गई थी और आरोपी नही पकड़े गए।
राजस्थान बीकानेर मिष्ठान के मालिक गौतम राजप्रोहित ने आशंका जताई है कि कहीं व्यवसायिक प्रतिस्पर्धा के चलते त्योहार के मौके पर तो किसी ने दुकान को क्षति पहुंचाने के लिए ऐसा नही करवाया। वहीं पुलिस के लिए भी दोनो घटना चुनौती स्वरूप है कि आरोपी पकड़ में नही आ रहा है, अब देखना होगा कि कब तक पुलिस आरोपी को पकड़ने में सफल हो पाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here