Home राजनीति भ्रष्टाचार की पोल खुलने से डरी प्रदेश सरकार

भ्रष्टाचार की पोल खुलने से डरी प्रदेश सरकार

283
0

कमलनाथ, प्रियंका गांधी वाड्रा, जयराम रमेश और अरूण यादव के खिलाफ एफआईआर पर भड़की कांग्रेस

उमरिया। प्रदेश मे 50 प्रतिशत कमीशन लिये जाने संबंधी पत्र के मामले ट्वीट करने पर पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, राष्ट्रीय नेता प्रियंका गांधी, जयराम रमेश तथा पूर्व पीसीसी चीफ अरूण यादव के खिलाफ हुई एफआईआर को लेकर सियासी तापमान गर्म हो गया है। इस मुद्दे पर रविवार को जिला कांग्रेस कमेटी ने एक प्रेस कांफ्रेन्स आयोजित कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा सरकार पर सीधा हमला बोला। वार्ता को संबोधित करते हुए अध्यक्ष अजय सिंंह ने कहा कि जब भी मुख्यमंत्री जी को भय सताता है, वे पुलिस और प्रशासन को आगे कर देते हैं। उन्होने आरोप लगाया कि प्रदेश मे हर जगह भ्रष्टाचार और कमीशनबाजी है, यह बात किसी से छिपी नहीं है। बिजली के ट्रांसफार्मर लगाने से लेकर ठेकेदारी, ट्रांसफर-पोस्टिंग, यहां तक कि नौकरियों की भर्ती मे घोटाले साबित हो चुके हैं। यदि यह बात कांग्रेस के नेताओं ने उठाई तो इसमे इतना बुरा मानने की क्या जरूरत है। सरकार पूरे मामले की जांच करा कर खुद को क्लीच चिट दे सकती थी, परंतु ऐसा न करके उलटे विपक्ष के नेताओं पर ही मुकदमा दर्ज कराना बताता है कि सरकार अपनी पोल खुलने से डर रही है।


तो भर देंगे प्रदेश की जेल – सैनी – वार्ता को संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं जिला संगठन प्रभारी जगदीश सैनी ने कहा कि पार्टी के नेता और कार्यकर्ता भाजपा की दमनकारी नीतियों से डरने, घबराने वाले नहीं हैं। उन्होने सरकार को सीधे चेतावनी देते हुए कहा कि यदि उसमे जरा सी हिम्मत है, तो वह कांग्रेस के नेताओं को गिरफ्तार करके दिखाये, हम सभी कांग्रेसजन प्रदेश की जेलें भर देंगे। इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश शर्मा, संगठन मंत्री संजीव खण्डेलवाल, ठाकुरदास सचदेव, प्रवक्ता अशोक गौंटिया, वीरेन्द्र सिंह, राजीव सिंह सहित अन्य पदधिकारी उपस्थित थे।
यदि देखा जाय तो यहां वही गाने की धुन याद आती है, “ये पब्लिक है सब जानती है”
प्रदेश की जनता अब भाजपा के हर चाल को समझने लगी है, जब भी कोई भाजपा के घोटाले और ईमानदार छवि को उजागर करता है तो उसके लिए सीबीआई, ईडी, पुलिस, लोकायुक्त आदि का उपयोग करने लगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here