Home प्रदर्शन पुलिस ने दिया लिखित आश्वासन लाइन मैन के मौत के दोषी की...

पुलिस ने दिया लिखित आश्वासन लाइन मैन के मौत के दोषी की जल्द होगी गिरफ्तारी

505
0

उमरिया – जिले के इंदवार थाना क्षेत्र में महीने भर पहले खम्भे में मेंटेनेंस कार्य कर रहा लाइन मैन हुआ था हादसे का शिकार।

मृत्यु पूर्व लाइन मैन अनल दीपांकर ने स्वयं बताया था कि मेरे साथ कोई यह पहला मामला नही हुआ है, लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व डिडौडी दुग्बार के मेरे साथी लाइन मैन राम सरोवर यादव के साथ भी अभिषेक मिश्रा ने ऐसा ही किया था जिससे उसकी मौत हो गई थी, हमने परमिट लिया था और हमने परमिट कैंसिल नही किया मेरे साथ उस समय डियूटी पर मेरे साथ शिवेन्द्र सिंह चतुर्वेदी थे हमने पहले एल टी लाइन का काम किया बाद में 11 के व्ही का काम कर रहे थे उसके बाद भी ये लाइन चालू कर दिया जिसके कारण मैं खम्भे से गिर गया और बेहोश हो गया फिर मेरे को कुछ नही मालूम।

करंट लगने से मौत होने के बाद लाइनमैन अनल कुमार दीपांकर के शव को इंदवार थाने के सामने रख परिजन और भीम आर्मी भारत एकता मिशन संगठन ने सैकड़ों की तादात में जमकर विरोध प्रदर्शन किया है और मांग की है कि इस पूरे मामले में दोषी ऑपरेटर के विरुद्ध जांच उपरांत विधिसंगत कार्यवाही की जाए। विदित हो कि इस मामले में पूर्व में ही इंदवार पुलिस ने 178/23 धारा 338 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया था, परन्तु इस प्रकरण में धरना प्रदर्शन के बाद धारा 304 एवम एससीएसटी एक्ट को बढ़ाने का लिखित आश्वासन दिया गया है, साथ ही पुलिस ने यह भी आश्वासन दिया है कि तीन दिवस में आरोपी गिरफ्त में नही आता है तो उसकी संपत्ति कुर्की के आदेश भी दिए जाएंगे।उल्लेखनीय है कि करींब एक माह पहले 21 अप्रैल को मृतक लाइन मैन अनल कुमार जब ग्राम भरेवा में खम्भे में चढ़कर 11 के व्ही की लाइन के मेंटेनेंस कार्य कर रहा था, तभी लाइन चालू कर दी गई थी, जिससे मृत लाइन मैन गम्भीर रूप से घायल हो गया था, बाद में उन्हें आनन-फानन में कटनी स्थित एमजीएम अस्पताल ले जाया गया था, जहां इलाज शुरू हो गया, परन्तु पीड़ित को सही ढंग से लाभ नही मिला।

उस स्थिति में चिकित्सकों के परामर्श के बाद एयर एंबुलेंस की मदद से सफदरजंग अस्पताल दिल्ली ले जाया गया, वहां भी चिकित्सको के काफी प्रयास के बाद ज़िंदगी और मौत से जूझ रहा अनल 12 मई को ज़िंदगी की बाज़ी हार गया और उनकी मौत हो गई।शोकग्रस्त परिजनों ने भीम आर्मी एवं ग्रामीणों की मदद से दिल्ली से शव लाकर इंदवार थाने के समक्ष रख कर विरोध प्रदर्शन किया है और कार्रवाई की बात किये।

इस पूरे मामले में परिजनों का आरोप है कि सब स्टेशन भरेवा में पदस्थ ऑपरेटर अभिषेक मिश्रा की लापरवाही से लाइन मैन अनल कुमार की जान गई है। पूर्व में भी मोबाइल आदि के माध्यम से क़ई बार ऑपरेटर ने धमकी दिया है, जिसका ऑडियो भी वायरल हुआ है।

प्रदर्शन के दौरान एसडीओपी नागेंद्र प्रताप सिंह ने परिजनों को विधिसंगत कार्यवाही का आश्वासन दिया है और वहीं इंदवार टी आई एम एल वर्मा ने लिखित में 3 दिवस के भीतर आरोपी को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया है।

यदि 3 दिवस में आरोपी नही मिलता है तो धारा 82 – 83 जाप्ता फौजदारी तहत आरोपी की संपत्ति कुर्क करने की भी कार्रवाई की जाएगी। वहीं मौखिक रूप से आरोपी के घर को गिराने का भी आश्वासन दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here