Home क्राइम मंत्री मीना सिंह के गुर्गों ने किया जीना हराम पीड़ित ने परिवार...

मंत्री मीना सिंह के गुर्गों ने किया जीना हराम पीड़ित ने परिवार सहित आत्महत्या की दी चेतावनी

159
0

उमरिया – जिले के मानपुर 90 विधानसभा क्षेत्र से विधायक और प्रदेश सरकार की कैबिनेट मंत्री मीना सिंह के चहेतों ने गरीब विधवा महिला और उसके बेटे का जीना हराम कर दिये हैं। तीन बार थाने में शिकायत करने के बाद भी कोई सुनवाई नही हो रही है। एक तरफ सरकार सुशासन का दावा करती है, दूसरी तरफ सरकार के कैबिनेट मंत्री के गुर्गे गरीबों का जीना हराम करके रखे हैं।

मामला है मानपुर 90 विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत आने वाले पाली जनपद पंचायत के ग्राम बकेली का। जहां की विधवा महिला सिरमन्तु जायसवाल पति स्वर्गीय प्रेम चंद जायसवाल अपने बेटे जय प्रकाश जायसवाल के साथ पाली थाने पहुंच कर लिखित आवेदन देकर बताई कि मंत्री मीना सिंह के खास लोग राजेन्द्र सिंह ठाकुर, महेन्द्र सिंह, सुरेन्द्र सिंह पिता कुंवर सिंह ठाकुर, पुष्पराज सिंह उर्फ अतुल सिंह पिता राजेन्द्र सिंह ठाकुर, सौरभ सिंह, सचिन सिंह पिता महेन्द्र सिंह, यशु सिंह पिता सुरेन्द्र सिंह सभी निवासी ग्राम पोस्ट बकेली। ये लोग कई बार हमसे और हमारे बेटे के साथ मारपीट कर चुके हैं, हम थाने में शिकायत किये हैं लेकिन ये लोग मंत्री मीना सिंह के खास लोग हैं जिसके कारण पुलिस भी नही सुनती है। इतना ही नहीं हमारा घर भी तोड़ चुके हैं। 14/11/2023 को दिन में 12 बजे हमारा बेटा जय प्रकाश अपनी मुर्गी की दुकान में काम कर रहा था तो उसको घसीट – घसीट कर मारे हैं और दुकान में जेसीबी मशीन चला दिए हैं और खेत मे भी जेसीबी मशीन चला दिए हैं और धमकी देते हैं कि तुमको जहां जाना हो जाओ हमारा कोई कुछ नही बिगाड़ सकता है, हमारी मंत्री है और अभी फिर जीतने दो तो हम तुमको दिखाते हैं क्या करेंगे।
ये सभी रेत और कोयला माफिया हैं, ये दबंग लोग हैं और इनके सिर पर मंत्री मीना सिंह का हाथ है। अब यदि इनके ऊपर कार्रवाई नही होगी तो हम लोग परिवार सहित आत्महत्या कर लेंगे।
गौरतलब है कि एक तरफ तो गोंड़वाना गणतंत्र पार्टी और कांग्रेस पार्टी ने मंत्री मीना सिंह के ऊपर बस्ती विकास योजना के तहत बाह्य विद्युतीकरण में 100 करोड़ रुपये के भारी भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है, जिसके जांच की मांग करने के दौरान गोंडवाना गणतंत्र पार्टी और पुलिस के बीच झड़प हुई जिसमें गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राधेश्याम ककोडिया और उनके साथ बहुत से लोगों को जेल तक पहुंचा दिया गया।
वहीं गोंड़वाना गणतंत्र पार्टी के तरफ से राधेश्याम ककोडिया इनके द्वारा किये गए भारी भ्रष्टाचार के खिलाफ जेल से चुनाव मैदान में कूद पड़े कि आदिवासियों, गरीबों को न्याय मिल सके और ऐसी बाहुबली मंत्री के द्वारा क्षेत्र की जनता के साथ किये गए अन्याय, अत्याचार का बदला ले सकें।


पीड़िता सिरमन्तु जायसवाल के बेटे जय प्रकाश ने बताया कि हमारे जैसे बहुत से परिवार हैं जिनके साथ मंत्री मीना सिंह के खास लोगों ने अन्याय और अत्याचार किया है और उनको आज तक न्याय नही मिला है। क्योंकि मंत्री के दबाब के चलते कोई गरीबों की बात ही नही सुनता है, अब हमारे पास आत्महत्या के अलावा कोई चारा नही बचा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here