Home अंधविश्वास महिला की मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने बुजुर्ग को पीटा

महिला की मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने बुजुर्ग को पीटा

692
0

जादू टोना के अंदेशे में ग्रामीणों ने बुजुर्ग की जमकर पिटाई कर दी, बुजुर्ग को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, पुलिस के हस्तक्षेप से बची बुजुर्ग की जान, अभी तक भयभीत बुजुर्ग के परिजनों ने नही किया रिपोर्ट।

उमरिया – जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाली पुलिस चौकी बिलासपुर के ग्राम अंतरिया में 25 अगस्त की शाम को गांव के ही पंडा हनुमान सिंह के पास कंधी सिंह अपनी पत्नी लीला बाई को झाड़ – फूंक करवाने ले गया। उसी बीच कुछ कहा सुनी हुई जिसमें हनुमान सिंह ने कहा कि मेरे को मत परेशान करो नही तो कोई मर जायेगा तो क्या फायदा और 26 अगस्त की सुबह अचानक लीला बाई की मौत हो गई। जिसके कारण मृतिका के परिजन घर के रो रहे थे तभी गांव के लोग एकत्रित होकर कारण पूँछे तो घर वालों ने बताया कि कल पंडा बोला था कि हमको परेशान मत करो नही तो गांव में किसी की मौत हो जाएगी।

इतना सुनते ही आक्रोशित ग्रामीण मृतिका के शव को ले जाकर पंडा के घर मे रख कर कहने लगे इसको जिंदा करो नही तो ठीक नही होगा और मारपीट करने लगे। उतने पर भी लोगों का दिल नही भरा तो गांव की खेर दाई में शव रख कर पंडा को भी घसीट कर ले गए और बुरी तरह पीटने लगे। पंडा की आवाज सुन कर उसके लड़के दौड़े तो ग्रामीण उनको भी मारने दौड़े।


पंडा के पुत्र जँहगीर सिंह ने बताया कि गांव वाले मृतिका का शव हमारे घर मे रख दिये और कहने लगे जैसे इसको खाये हो जिंदा करो, इतना कह कर मारने लगे। हम लोगों को देख कर गांव वाले बोले सबको मार डालो।

तब हम लोग भाग कर बिलासपुर पुलिस चौकी आये तो पुलिस वहां जाकर हमारे पिताजी को उठा कर लाई और बिलासपुर अस्पताल में भर्ती करवाई फिर यहां जिला अस्पताल भेजे हैं।

वहीं इस मामले में एसडीओपी नागेन्द्र प्रताप सिंह चौहान ने बताया कि कल का मामला है सूचना मिली थी कि ग्राम अन्तरिया में एक महिला लीला बाई की मौत हो गई है और ग्रामीण कह रहे हैं कि हनुमान सिंह गोंड़ ने ऐसा तंत्र मंत्र किया कि उसकी मौत हो गई है। जिस पर ग्रामीणों ने हनुमान सिंह गोंड़ के साथ मारपीट किया है जिस पर पुलिस मौके पर पहुंच कर मृतिका के शव का पंचनामा कार्रवाई करवा कर पोस्टमार्टम करवाया गया है, इस पर कार्रवाई की जा रही है। वहीं कहे कि 21 वीं सदी में भी लोग अंधविश्वास के शिकार हो रहे हैं, हमने ग्रामीणों को आश्वासन दिया है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी, और अभी हनुमान सिंह की तरफ से रिपोर्ट नही आई है, उधर से रिपोर्ट आएगी तो हम वैसी कार्रवाई करेंगे।

वहीं ग्रामीणों ने बताया कि यह कोई पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी पंडा तंत्र मंत्र करके कई लोगों की जान ले चुका है।

गौरतलब है कि देश तरक्की कर रहा है 21 वीं सदी में विज्ञान चरम पर है, प्रदेश सरकार शिक्षा के बड़े बड़े दावे कर रही है और उसके बाद ग्रामीण क्षेत्रों में अंधविश्वास भी चरम पर है, जिसके चलते यह घटना घटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here