Home राज्य 2 युवकों की मौत – सुरेन्द्र त्रिपाठी

2 युवकों की मौत – सुरेन्द्र त्रिपाठी

504
0

2 युवको की मौत

उमरिया 20 अक्टूबर – जिले में हुई 2 युवकों की मौत, ठेकेदार की लापवाही के चलते 1 युवक के ऊपर गिरा 100 के व्ही का बिद्युत ट्रांसफार्मर और दूसरा बैगा आदिवासी युवक लगाया अंधविश्वास के चलते फांसी, दोनों की हुई मौत, पुलिस मामले की कर रही है जांच, ठेकेदार ने नहीं दिया कोई सहायता, परिजनों ने लगाया आरोप |

उमरिया जिला मुख्यालय से 5 किलोमीटर दूर ग्राम भरौला में विजय गुप्ता के यहाँ लग रहे राईस मिल के लिए 100 किलो वाट के ट्रांसफार्मर को पोल पर चढाने के लिए ठेकेदार द्वारा लापरवाही बरती गई, मृतक अभिषेक यादव के चचेरे भाई दीपक यादव ने बताया कि ठेकेदार सुरेन्द्र पटेल 3 लोगों से ट्रासफार्मर खम्भे पर चढवा रहा था तभी चैन टूट जाने से अभिषेक के ऊपर 100 किलो वाट का भारी ट्रांसफार्मर गिर गया जिसके नीचे लगभग आधा घंटा दबा रह गया और जब लोग दौड़े तो निकल कर जिला अस्पताल भेजे यहाँ से जबलपुर रिफर कर दिया गया रस्ते में उसकी मौत हो गई लेकिन ठेकेदार का कहीं पता नहीं है और न ही किसी प्रकार की सहायता दिया | सबसे दुखद तो यह है कि मृतक अभिषेक अपने माता – पिता का 1 ही संतान है अब बुढ़ापे में उनक कोई सहारा नहीं बचा |

इस मामले में टी आई उमरिया राकेश उइके का कहना है कि सूचना मिली थी जिला अस्पताल से कि एक व्यक्ति घायल होकर आया है ट्रांसफार्मर लगते समय ट्रांसफार्मर गिर गया है उसका पोस्ट मार्टम करा कर परिजनों को शव सुपुर्द कर दिया गया है उसमें प्रथम दृष्टया ठेकेदार द्वारा लापरवाही पूर्ण यह कृत्य करवाने से यह घटना घटित हुई है प्रकरण दर्ज कर विवेचना की जा रही है वहीँ कहे कि अपराध में जो चीज संलिप्त होगी उस पर संवैधानिक कार्यवाई की जायेगी |

वहीँ दूसरी घटना भी ग्राम भरौला में ही हुई है बैगा आदिवासी युवक अपने घर में फांसी लगा कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर लिया है | मृतक के पिता कज्जू बैगा ने बताया कि 5 माह पहले बेटे ललन की शादी हुई थी और तभी से कुछ मानसिक रूप से परेशान रहता था मैं कई जगह झाड – फूंक करवाया हूँ, जो भी जहां बता देता था वहां जाकर झाड – फूंक करवाता था और कल दिन में मेरे से पैसा लेकर बाजार गया था वहां से लौट कर अपने कमरे में चला गया मैं बकरी चराने चला था जब उसको जगाने लगे तो नहीं उठा तब दरवाजे के झिरी से झाँक कर देखे तो झूल रहा था |

इस मामले में उमरिया टी आई राकेश उइके का कहना है कि सूचना मिली थी मर्ग कायम कर लिया गया है तस्दीक में पाया गया कि ललन बैगा निवासी ग्राम भरौला अपने घर में ही फांसी लगा लिया था उसके पिता से बात किये तो बताया कि 5 माह पहले शादी हुई थी उसी समय से यह मानसिक रूप से डिस्टर्ब हो गया था जिसका ईलाज ये लोग करा रहे थे बाक़ी जांच के बाद स्थिति स्पष्ट हो सकेगी |

गौरतलब है कि एक घर का चिराग तो ठेकेदार की लापरवाही से बुझा और दूसरा अंधविश्वास में, यदि झाड – फूंक के स्थान पर किसी मनोरोग चिकित्सक को दिखाया जाता तो शायद आत्म ह्त्या न करता |

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here