Home राज्य शबरी कोल महाकुम्भ में कल आयेंगे कमल नाथ – सुरेन्द्र त्रिपाठी

शबरी कोल महाकुम्भ में कल आयेंगे कमल नाथ – सुरेन्द्र त्रिपाठी

484
0

कल आयेंगे कमल नाथ

उमरिया 23 फरवरी – जिले में कल 24 फरवरी को होगा शबरी कोल महा कुम्भ सम्मलेन, आयेंगे प्रदेश के मुखिया कमल नाथ, उनके साथ और भी बड़े नेताओं के आने कि हैं सम्भावनाये, कोल महा संघ और जिला प्रशासन जुटा तैयारियों में, हजारों लोगों के आने की हैं उम्मीद, वहीँ कांग्रेस ने जिला मुख्यालय को पाट दिया बैनरों पोस्टरों से |

उमरिया जिला मुख्यालय का नजारा आज देखते ही बनता है कांग्रेस के हर धड़े के लोग अपने – अपने नेताओं के नाम के बैनरों पोस्टरों में लिखवा कर टांगने में लगे हैं किसी में दिग्विजय सिंह, अजय सिंह और कमल नाथ तो किसी में ज्योतिरादित्य और कमल नाथ के फोटो लगे हैं, लेकिन मुख्य कार्यक्रम शबरी महा कुम्भ के बैनर नगर में कहीं – कहीं नजर आ रहे हैं, हालाँकि ये तो शबरी कोल समाज का कार्यक्रम है लेकिन फिर भी गुटबाजी नजर आ रही है | 24 फरवरी जो होने वाले कार्यक्रम के बारे कांग्रेस के प्रदेश महा सचिव अजय सिंह बताये कि प्रदेश में सरकार बनने के बाद मुख्य मंत्री कमल नाथ का उमरिया जिले का पहला दौरा है जो कि शबरी कोल समाज के महा कुम्भ में शिरकत करने आ रहे हैं कोल समाज के उत्थान के लिए सरकार वचनबद्ध है काम करेगी, उमरिया जिले में आगमन हो रहा है यहाँ भी बहुत सी आशाएं हैं 8 – 10  दिन में आचार संहिता लगने की संभावना है इसलिए जो घोषणायें होंगी वह पूरी नहीं हो पाएंगी और हम लोगों ने मूलभूत समस्या को पूरा करने के लिए मांग किया है और उम्मीद है कि पूरा करेंगे, जैसे हमने मांग किया है कि जिले के अस्पतालों में डाक्टरों की कमी है, विशेषज्ञों की कमी है, कालेजों में प्रोफेसरों की कमी है, इसी तरह पहले मूलभूत सुविधाओं को पूरा करने की मांग किये हैं साथ हि उम्मीद है कि कुछ और घोषणा करेंगे और उमरिया जिला कहीं भी विकास में पीछे नहीं रहेगा |

वहीँ युवा प्रकोष्ठ मध्य प्रदेश कोल समाज के प्रदेश अध्यक्ष और इस शबरी महा कुम्भ के आयोजक इंजीनियर विजय कोल बताये कि इसकी तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है 12 प्रदेश अध्यक्ष और 18 से 20 जिलों के लोग आ रहे हैं कुछ चल चुके हैं कुछ आ चुके हैं, समाज की मूलभूत समस्याओं को मुख्य मंत्री जी के सामने रखा जाएगा ताकि इस समाज का भी उत्थान हो सके और उसके लिए भी बोर्ड का गठन हो और अधिकार मिले जैसे बैगा विकास प्राधिकरण बना है वहीँ कहे कि पूर्व की सरकार ने कोल बोर्ड का गठन तो कर दिया था लेकिन मात्र दिखावा रहा, और हमारे समाज का जो पलायन होता है उसको रोकने का प्रयास हो ताकि हमारा समाज भी विकसित हो |

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here