Home क्राइम युवक की नृशंश ह्त्या – सुरेन्द्र त्रिपाठी

युवक की नृशंश ह्त्या – सुरेन्द्र त्रिपाठी

513
0

ह्त्या

उमरिया 15 नवम्बर – जिले का नौरोजाबाद कस्बा अपराधियों  के लिए शरण स्थली बन गया है, जिले की अपराधिक सूची में कस्बे का नाम सबसे ऊपर है, बीते दिनों एक 20 वर्षीय युवक के लापता होने पर उसके परिजन किसी अनहोनी की आशंका से चिंतिंत पुलिस से अपने बच्चे को खोजने की गुहार लगाने पहुंचे, पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए संदेह के आधार पर आरोपी को धर दबोचा और आरोपी की निशानदेही पर युवक के शव को गाड़ी गई जगह से खोद निकाला। इस घटना से इलाके के लोग सकते में हैं।

व्ही ओ 1 – उमरिया जिले के नौरोजाबाद कस्बे में सस्पेंस और रोमांच से भरे एक सनसनीखेज खौफनाक हत्या का मामला सामने आया है, जानकारी के मुताबिक 20 वर्षीय युवक पहले तो लापता हुआ और बाद में उसकी मौत का खुलासा हुआ। किसी ने सच ही कहा है कि कानून के हाथ बहुत लंबे होते हैं, और पुलिस चाह ले तो गड़े मुर्दे भी उखाड़कर हकीकत को सामने ला सकती है!  नौरोजाबाद और पाली पुलिस की जॉइंट टीम ने एक पिता की करुण फरियाद पर एक्शन लेते हुए संयुक्त रूप से ब्लाइंड मर्डर से पर्दा उठाया तो देखने वाले भी हैरान रह गए ये वारदात पांच दिन पहले 9 नवम्बर की है, 20 वर्षीय युवक सुमित रजक अचानक लापता हो गया, पीड़ित परिजनों ने  नजदीकी थाने में बेटे के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई ! छानबीन के बाद पुलिस के सामने जो कहानी आई उसके मुताबिक, मृतक सुमित रजक पिता हरगोविंद रजक का किसी लड़की से अफेयर था और आरोपी अमित कोल भी उस लड़की से एकतरफा प्यार करता था, ऐसे में अपने प्यार को पाने के लिए आरोपी ने जो रास्ता अख्तियार किया वो उसे सीधे सलाखों के पीछे लेकर पहुंचा दिया, लेकिन आरोपी अमित कोल पुलिस को बताया कि मेरे भाई से सुमित झगड़ा कर रहा था और कह रहा था कि जैसे मैं उसको पत्थर पटक कर मार दिया हूँ वैसे तुमको भी मार दिया तब हम लोग तौलिया से गला दबा कर मार दिए और लाश को गाड़ दिए |

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आर डी प्रजापति बताये कि पुलिस आरोपी अमित कोल के द्वारा किये गए हत्या के खुलासे के बाद और भी गहन पूछताछ कर रही है! हालांकि जो कहानी बताई गई उसके मुताबिक, बीते दिन सिंधी मोहल्ला में लगे ईट भट्टे के पास मृतक और आरोपी एक साथ बैठ कर दोनों ने शराब पी, शराब का नशा जब दोनों के सर चढ़ कर बोलने लगा तो लड़की को लेकर दोनों में कहा – सुनी हो गई और आरोपी ने अपने प्यार के दुश्मन को हमेशा – हमेशा के लिए रास्ते से हटा दिया। पुलिस पहले गुमशुदगी कायम किया गया बाद में धारा 364 अपहरण का मामला कायम किया गया बाद में संदेही अमित कोल और उसके दो साथी शिवा कोल एवं संतोष सिंह गोंड़ के खिलाफ अपराध अपराध क्रमांक 366/18  धारा 302, 201 का प्रकरण पंजीबद्ध कर आरोपियों को जेल भेज दिया गया |

वहीँ जब ए एस पी से नौरोजाबाद थाना क्षेत्र में हो रही लगातार हत्याओं के बारे में बात किया गया तो उनका कहना है कि नौरोजाबाद इंडस्ट्रियल एरिया है और लोगों को पैसा भी मिलता है इस कारण अपराध बढ़ाते हैं यह मामला लव अफेयर्स का था आरोपी किसी से प्यार करता था और दूसरा उससे रंजिश रखता था और मौक़ा पाकर उसकी ह्त्या कर दिया वहीँ घुलघुली में हुई अज्ञात महिला की ह्त्या के बारे में कोई खुलाशा न होने के मामले पर भी कहे कि अभी उसमें जांच चल रही है 302 का प्रकरण दर्ज कर लिया गया है महिला की शिनाख्तगी के प्रयास किये जा रहे हैं अगर शिनाख्त हो गई निश्चित रूप से सफलता मिलेगी |

गौरतलब है कि जिले में जब यदि कहीं सबसे ज्यादा अपराध होता है तो वह है नौरोजाबाद थाना, लेकिन नौरोजाबाद टी आई को अपराध रोकने का प्रयास ही नहीं करना है यदि समय रहते ध्यान देते तो शायद एक पिता को अपने जवान बेटे के शव पर आंसू न बहाना पड़ता |

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here