Home क्राइम भाजपा नेताओं की पत्नियों और भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ ई ओ डब्लू...

भाजपा नेताओं की पत्नियों और भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ ई ओ डब्लू ने पेश किया चालान

562
0

सुरेन्द्र त्रिपाठी

ग्राम पंचायत महरोई
भाजपा नेताओं की पत्नियों और भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ ई ओ डब्लू ने पेश किया चालान
उमरिया 12 अगस्त – वर्ष 2006 – 07 से 2013 – 14 तक ग्राम पंचायत में किये गये कार्यो में हुई लगभग साढ़े 4 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार मामले में आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो रीवा (ईओडब्ल्यू) ने शिकायत के बाद जांच उपरांत जिला न्यायालय में 12 लोगों के खिलाफ 6 सौ पेज का पेश किया चालान।
मामला है उमरिया जिले के मानपुर जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत महरोई का, जहां सरपंच, सचिव से लेकर जनपद और ग्रामीण यांत्रिकी विभाग के बड़े अधिकारियो ने जमकर निर्माण कार्यो में शासकीय राशि का दुरूपयोग किया। वर्ष 2006 – 07 से लेकर 2013 – 14 तक 7 वर्षों में जम कर सरकारी पैसों की होली खेली गई। जिस मामले में आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो रीवा ( ईओडब्ल्यू) से शिकायत की गई थी जिसमें जांच अधिकारी प्रवीण चतुर्वेदी ने बताया कि निर्माण कार्यो में भारी अनियमितता पाई, इसके साथ – साथ लगभग साढ़े 4 करोड़ रुपये की शासकीय राशि का दुरुपयोग करना पाया गया। जांच उपरांत जिला न्यायालय में 6 सौ पेज का चालान आज पेश किया गया है। इस बड़े घोटाले में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की पत्नियां, हितग्राही और रिटायर्ड अधिकारी भी शामिल हैं। इसमें थाना आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ भोपाल में अपराध क्रमांक 12/17 धारा 420, 120 बी आईपीसी एवं धारा 13 (1), 13 (2), भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया गया, जिसमें आरोपी तत्कालीन सरपंच ग्राम पंचायत महरोई शिवलाल यादव, तत्कालीन सचिव सरोज गुप्ता पत्नी मुनेश्वर गुप्ता, तत्कालीन सरपंच सावित्री चौधरी पत्नी मौजी लाल चौधरी, तत्कालीन सरपंच फूल बाई प्रधान पत्नी वंशधारी प्रधान, तत्कालीन सचिव राम प्रकाश गुप्ता, तत्कालीन सचिव अकलराम नागवंशी हाल मुकाम पी सी ओ जयसिंह नगर जिला शहडोल, पुष्पा प्रधान पत्नी कृष्ण दत्त प्रधान, धर्मदास गुप्ता, श्रवण कुमार, शिव दयाल गुप्ता शामिल हैं। वहीं सभी आरोपियों को 5 – 5 हजार रुपये की एक दिन की जमानत पर रिहा किया गया है। साथ ही अनुपस्थित अभियुक्तों के विरुद्ध न्यायालय से जमानती वारंट भी जारी किया गया है। इंजीनियरों और एस डी ओ के विरूद्ध शासन से अनुमति मिलने के बाद पूरक चालान पेश किया जाएगा।
प्रवीण चतुर्वेदी इंस्पेक्टर ईओडब्ल्यू

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here