Home क्राइम पुलिस को मिली बड़ी सफलता आईपीएल सट्टा पकड़ा गया

पुलिस को मिली बड़ी सफलता आईपीएल सट्टा पकड़ा गया

825
0

उमरिया – पुलिस द्वारा IPL मैच में सट्टा खिला रहे सटोरियो से 02 प्रकरण में लगभग 5500000/- (पचपन लाख रूपये) के सट्टा कारोबार का किया गया भाण्डा फोड

पुलिस महानिदेशक मध्य प्रदेश सुधीर कुमार सक्सेना द्वारा संपूर्ण मध्य प्रदेश मे जुआ सट्टा के विरुद्ध प्रभावी अभियान चलाया जा रहा है जिस पर अति. पुलिस महानिदेशक शहडोल जोन शहडोल डी.सी. सागर द्वारा समस्त जोन में जुआ एवं सट्टा के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश सभी पुलिस अधीक्षको को दिये गये थे जिसके तारतम्य मे पुलिस अधीक्षक उमरिया प्रमोद कुमार सिन्हा के द्वारा जुआरियो एवं सटोरियो के विरूद्ध लगातार अभियान चलाने, तथा वर्तमान समय में चल रहे IPL क्रिकेट मैच सट्टा के संबंध में सभी थाना प्रभारियो / चौकी प्रभारियो को प्रभावी कार्यवाही हेतु लगातार निर्देशित किया गया है एवं इस प्रकार की अवैध गतविधियो पर रोक लगाने व घर पकड हेतु पुलिस अधीक्षक उमरिया द्वारा एक विशेष टीम का गठन भी किया गया है इसी कार्यवाही के दौरान दिनांक 22.04.2023 को IPC सट्टा खिलाने वालो के विरूद्ध उमरिया पुलिस को बड़ी सफलता मिला है, विवरण इस प्रकार है।

दिनांक 22.04.2023 को थाना मानपुर मे पदस्थ थाना प्रभारी सुन्द्रेश मेरावी एवं उप निरीक्षक भूपेन्द्र शासकीय वाहन क्रमांक एम पी 03 ए 3492 से क्षेत्र मे हमराह स्टाफ के साथ रवाना हुये इस दौरान मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि
ताला स्थित वाइल्ड टाईगर रिसोर्ट के रूम नंबर 406 एवं 407 में बंद कमरे में कुछ लोग अपने साथ लेपटॉप मोबाईल आदि रखे हैं और आई पी एल क्रिकेट मैच पर हार जीत का दाव लगाकर सटटा पटटी खिलाने का काम कर रहे हैं। चूकि होटल के कमरो में IPL क्रिकेट पर सट्टा लगाने की सूचना थी इस कारण सर्च वारंट प्राप्त करने हेतु मुखबिर सूचना से एस.डी.ओ.पी उमरिया नागेन्द्र प्रताप सिंह को अवगत कराया गया जिस पर एस डी. ओ. पी. उमरिया अपनी टीम के साथ स्वयं ताला पहुचे तथा वाईल्ड टाईगर रिसोर्ट पहुंचकर दो अलग अलग टीम गठित किये तथा दोनो कमरो कि तलाशी के लिये एस डी ओ पी उमरिया द्वारा सर्च वारंट जारी किया गया रूम नं. 406 एवं 407 में पुलिस के द्वारा प्रवेश करने पर पाया गया कि कमरा नं0 406 में 04 लोग एवं कमरा नं0 407 में 02 लोग पाये गये तथा दोनो कमरो से दो लेपटॉप, 34 मोबाईल फोन, 02 टेली विजन जिसमे की IPL मैच देखा जा रहा था और मोबाइल फोन के माध्यम से कागज पर सटटा पटटी लिखी जा रही थी और लेपटॉप पर एक YASH AKASH नाम से एक एप्लीकेशन चल रहा था जिस पर दिनांक 22/04/2023 लिखा था और आई पी एल मैच का नाम अंग्रेजी में GT vs LSG लिखा था एवं आधी विन्डो पर कुछ नाम और उनके सामने अमाउण्ट लिखा हुआ था।

सटटा पटटी पर हार जीत का दाव लगाकर खिला रहे व्यक्तियों से नाम व पता पूंछने पर अपना नाम क्रमश अपना नाम क्रमश: अजय कुमार चक्रवर्ती पिता लल्ला राम चक्रवती उम्र 34 वर्ष निवासी भान तलैया देवराज बस कम्पनी जबलपुर एवं नितिन केशरवानी पिता बद्री प्रसाद केशरवानी उम्र 37 साल निवासी वार्ड नं 15 भगवान गंज, सागर का होना बताए। आरोपी अजय कुमार चक्रवर्ती को अभिरक्षा में लिया पूछताछ की गई जो बताया कि वह जबलपुर के अपने साथी राहुल जाटव निवासी सिधी कैम्प के माध्यम से अपने क्लाइटों से हार जीत का दाव लगाकर सटटा पटटी- का पैसा इकटठा करता था तथा वाईल्ड टाईगर रिसोर्ट के मैनेजर संजय यादव को बताकर सटटा खेलने के लिये रूम नं 407 बुक किया था। मौके पर उपरोक्त आरोपीगणों का कृत्य धारा 3/4, 4 क सार्वजनिक द्यूत अधिनियम के अंतर्गत दण्डनीय पाये जाने से आरोपीगणों के पास एवं घटना स्थल से मुताबिक जप्ती पत्रक के 34 नग मोबाईल फोन, 02 नग लेपटाप 02 टेली विजन, 01 कनेक्टिंग मशीन 02 पेन ड्राईव. एक वाईस रिकोर्डर, कैल्कुलेटर (03 नग, एक कार्डलेस फोन, 10 नग मोबाइल चार्जर, एवं 01 आई 20 कार (नम्बर MP20CE4363) नगदी रकम 5700/- रूपये एवं IPL की बुकिंग का हिसाब 3071000/- (तीस लाख इकहत्तर हजार रूपये)() कुल मसरूका लगभग 5500000/- रूपये की जप्ती की गई तथा आरोपीगणों 01. संदीप सराटे पिता नरेस सराटे उम्र 34 साल निवासी छिदवाडा नाका सिवनी 02. नील कमल प्रजापति पिता स्व० सोनी लाल प्रजापति उम्र 24 वर्ष 03. आकाश राज भर पिता राम दुलारे राजभर उम्र 23 साल 04 राजेश कुशवाहा पिता मोहन लाल कुशवाहा उम्र 32 साल 05. अजय कुमार चक्रवर्ती पिता लल्ला राम चक्रवर्ती उम्र 34 साल 06: नितिन केशरवानी पिता बद्री प्रसाद केशरवानी उम्र 37 साल सभी निवासी जबलपुर को गिरफ्तार किया गया है पूछ ताछ पर यह पाया गया है कि उक्त आरोपीगण सुशील ठाकुर जो सिवनी मे रहता है तथा संजय यादव एवं राहुल जाटव जो जबलपुर के रहने वाले है एवं जबलपुर से बैठकर संचालन करा रहे थे इस कारण से मामले में उक्त दोनो लोगो को भी आरोपी बनाया गया है मामले में यह भी पाया गया है कि आरोपीगण इलेक्ट्रानिक उपकरणों के माध्यम से तथा स्वयं की गलत पहचान से उक्त सट्टे का करोबार कर रहे थे जिस पर अन्य प्रावधानों के आकर्षित होने पर नियमानुसार कार्यवाही की जा रही है। सर्व
महत्त्वपूर्ण योगदन – उक्त कार्यवाही में पुलिस अधीक्षक उमरिया श्री प्रमोद सिन्हा, अति. पुलिस अधी. श्री प्रतिपाल सिंह महोबिया, एसडीओपी उमरिया नागेन्द्र प्रताप सिंह के निर्देशन में थाना प्रभारी मानपुर सुन्द्रेश मेरावी, उनि भूपेन्द्र पंत, उनि अल्का पटेल, सउनि विरेन्द्र यादव, सउनि शैलेन्द्र सिंह, प्रआर दादूराम बादव, प्रआर राजेन्द्र चंदेल, आर गौरव तिवारी, आर. नीलेश सिंह आर जगदीश एस्के, आर सुधीर द्विवेदी, सायवर सेल से प्रआर राजेश सोंधिया आर संदीप सिंह का योगदान रहा।


वहीं अतिरिक्त पुलिस महा निदेशक डी सी सागर द्वारा पुलिस अधीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक, एसडीओपी उमरिया को प्रसस्ति पत्र एवं मानपुर टी आई सहित सभी टीम को 20 हजार रुपए नगद ईनाम की घोषणा भी किये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here