Home हड़ताल अनिश्चितकालीन हड़ताल पर नर्सिंग एशोसिएशन

अनिश्चितकालीन हड़ताल पर नर्सिंग एशोसिएशन

428
0

उमरिया – जिले भर नही प्रदेश की नर्सिंग आफिसर अपनी बहुप्रतीक्षित और लम्बित मांगो को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चली गई है।
नर्सिंग एशोसिएशन की जिला अध्यक्ष अनुराधा पटेल ने बताया कि हमारी मांगे कई वर्षों से लंबित हैं। हम लोगों ने वर्ष 30/06/2021 को अपनी न्योचित मांगो को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल किया था लेकिन न्यायालय के हस्तक्षेप व समझाइश के बाद 07/07/2021 को वापस ले लिया था।
न्यायालय ने शासन व प्रशासन को नर्सिंग एशोसिएशन के साथ समन्वय स्थापित कर एक समिति का गठन कर मांगों का निराकरण करने का निर्देश दिया था लेकिन ऐसा न होने के कारण दिनांक 20/09/2021 को शासन और प्रशासन के विरुद्ध अवमानना का केस दायर किया गया उसके बाद भी नतीजा शून्य रहा।


गौरतलब है कि न्यायालय सर्वोपरि है उसके बाद भी इस सरकार में बैठे नेता, मंत्री और अधिकारी न्यायालय के आदेश को ही ठेंगा दिखा रहे हैं। जबकि प्रदेश के मुखिया बड़ी बड़ी बातें करते हैं और दूसरों से नियमो का पालन करने की अपेक्षा रखते हैं खुद न्यायालय के आदेश का सम्मान नही करते हैं। इसी से क्षुब्ध होकर प्रदेश का नर्सिंग एशोसिएशन अब अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठ गया है।
इनकी प्रमुख मांगें हैं
नर्सिंग संवर्ग की वेतन विसंगति को दूर कर अन्य राज्यों की बात किया जाए।
डॉक्टर के जैसे रात्रिकालीन भत्ता दिया जाए।
वर्षों से लंबित पड़े पदोन्नति को शुरू करते हुए पदोन्नति किया जाय एवं नर्सों को डेजिग्नेशन प्रमोशन दिया जाए।
पुरानी पेंशन योजना लागू किया जाए।
शासकीय नर्सिंग कॉलेजों पर अध्ययनरत छात्राओं को कलेक्टर दर पर मानदेय दिया जाए जो लगभग 18 हजार रुपये हो।
हालांकि अब प्रदेश नर्सिंग एशोसिएशन आर पार की लड़ाई के मूड में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठ गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here