Home धर्म काली नृत्य के साथ निकला जवारा जुलूस

काली नृत्य के साथ निकला जवारा जुलूस

542
0

उमरिया – चैत्र नवरात्रि के अवसर पर उमरिया जिले में कई देवी स्थानों पर जवारे बोए गए, 8 दिन तक लगातार लोग देवी देवताओं की पूजा करते रहे, इस मौके पर कई श्रद्धालु तो निर्जला व्रत उपवास रहकर श्रद्धा भक्ति से पूजा करते रहे। अष्टमी पर लोगों ने विशेष पूजा अर्चना की।

जवारा जुलूस


राम नवमी के अवसर पर उमरिया के कई देवी मंदिरों से जवारा जुलूस की शोभा यात्रा निकाली गई।
शोभा यात्रा उमरिया में पहली बार इतनी भव्यता से निकाली गई। उमरिया के मुख्य मार्गों से हो कर जब जावरा जुलूस निकला तो लोग भक्ती में झूम उठे।

जवारा सर पर


सैकड़ों की संख्या में महिलाएं सर पर जवारा रखकर विसर्जन के लिए उमरिया के प्रतिष्ठित ज्वालामुखी मंदिर तक जुलूस की शक्ल में जवारा लेकर निकलीं।

काली नृत्य


इस बीच श्रद्धालुओं ने काली का रूप धारण कर काली नृत्य किया जिसे देखने के लिए भारी संख्या में लोगों की भीड़ जमा हो गई, चार अलग-अलग जगह से जवारा जुलूस निकाला गया, ये सभी उमरिया नगर के सड़कों से होकर ज्वालामुखी मंदिर तक पहुंचे इनमें सबसे पहले नैगमा टोला दूसरा आसमानी मंदिर और तीसरा लालपुर बहरा धाम के जवारे निकाले गए। इसी के साथ रामनवमी का पर्व हर्षोल्लास के साथ सम्पन्न हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here