Home बलवा गोंडवाना गणतंत्र पार्टी और पुलिस के बीच झड़प और पथराव

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी और पुलिस के बीच झड़प और पथराव

795
0

उमरिया – जिले ही नही प्रदेश भर में जनजातीय कार्य मंत्री मीना सिंह द्वारा बस्ती विकास योजना के तहत बाह्य विद्युतीकरण योजना में 100 करोड़ रुपये का घोटाला किये जाने और उमरिया के मानपुर विधानसभा क्षेत्र में पंचायतों के माध्यम से मंत्री मीना सिंह द्वारा करवाये गए घोटाले के जांच की मांग इनके द्वारा लगातार 9 अगस्त से की जाती रही। जिला प्रशासन द्वारा भी जांच का आश्वासन दिया गया था लेकिन कोई जांच न होने से आक्रोशित गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के द्वारा जिला मुख्यालय स्थित रानी दुर्गावती चौक में धरना प्रदर्शन किया जाता रहा।

उसी बीच प्रदर्शनकारी युवकों द्वारा कटनी एवं शहपुरा रोड को जाम कर दिया गया जिस पर पुलिस जाम को खुलवाने का प्रयास की लेकिन ये लोग मानने को तैयार नही हुए तो पुलिस ने भी समझाइश देकर नजरअंदाज कर दिया। उसी दौरान लगभग 2 बजे किसी बाइक सवार को युवा कार्यकर्ताओं रोक दिया जिस पर एक एसआई ने कुछ बोल दिया जिस पर कार्यकर्ताओं ने खदेड़ कर पुलिसकर्मियों को पीट दिया जिसमें एक एएसआई का सर फूट गया। उसके बाद मामला शांत हो गया। शाम लगभग 4 बजे गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के नेता अपने भाषण में कहने लगे कि हमारे द्वारा जिला मुख्यालय के व्यापारियों से निवेदन किया गया था कि अपने संस्थानो को बन्द कर हमारा सहयोग कीजिये जिस पर व्यापारियों ने हां कर लिया लेकिन अपनी दुकानों को खुला रखा है, हमारा प्रशासन से अनुरोध है कि उनकी दुकानों को बंद करवा दीजिये नही तो हमारी रैली जाएगी तो दुकान में तोड़फोड़ या लूट कुछ भी हो तो सारी जिम्मदारी प्रशासन की होगी।
शाम को लगभग 5 बजे गोंडवाना गणतंत्र पार्टी रैली निकालने की तैयारी करने लगी जिस पर पुलिस ने नगर में शांति व्यवस्था कायम रखने के उद्देश्य से रोक दिया और विवाद इतना बढ़ गया कि अतिउत्साह में किसी पुलिसकर्मी ने मारो शब्द कह दिया।

जिस पर पुलिस लाठीचार्ज कर दी, उसके बाद गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पथराव कर दिया फिर दौड़ा – दौड़ा कर पुलिसकर्मियों को लाठी डंडों से मारा, इतना ही एक बुजुर्ग पुलिसकर्मी घायल होकर बेहोश गया उसके बाद भी लाठी से मारे, वहीं एडिशनल एसपी को अकेले पाकर दौड़ा कर बुरी तरह मारे जिसमे वो गम्भीर रूप से घायल हो गए, जिसमें 20 पुलिस वाले, चंदिया टीआई मंजू शर्मा, नौरोजाबाद टीआई अरुणा द्विवेदी, उमरिया टीआई राजेश चन्द्र मिश्रा, यातायात प्रभारी एसआई अमित पटेल, एएसआई अमर सिंह, सुभाष यादव, राम कृष्ण साहू, उमेश सिंह, अशोक ठाकुर, ब्रजेश सिंह, शैलेन्द्र सिंह, बाकी प्रधान आरक्षक और आरक्षक घायल हुए हैं। वहीं कुछ मीडियाकर्मी और जनता के लोग भी घायल हो गए, घंटो पथराव होता रहा। पुलिस ने अश्रु गैस, वाटर कैनन का भी प्रयोग किया। काफी मशक्कत के बाद स्थिति नियंत्रण में आई। वहीं बाद में पुलिस गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के नेताओं, कार्यकर्ताओं को अपनी अभिरक्षा में ले ली है।

जिले के कलेक्टर बुद्धेश कुमार वैद्य ने बताया कि आज गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के मिस्टर काकोडिया हैं उनके नेतृत्व में एक आम सभा का आयोजन किया गया था। और इसके लिए पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था किया था शाम तक शांति पूर्वक यह कार्यक्रम चलता रहा, अचानक उन्होंने निर्णय लिया कि वो शहर में जाएंगे और एक रैली के रूप में जाएंगे, और मंच ने इन्होंने एनाउंस किया कि पुलिस प्रशासन जाकर दुकानों को बंद करवाये, नही तो वो लोग खुद जाकर तोड़फोड़ करेंगे। जब प्रशासन को यह लगा कि ये लोग तोड़फोड़ करेंगे तो कानून व्यवस्था की स्थिति निर्मित हो सकती है, ये लोग कानून को अपने हाथ मे ले लेंगे, इसलिए जो पहले से सुरक्षा व्यवस्था बनाई गई थी, उसके लिए प्रवेश द्वार लगाए गए थे, उस प्रवेश द्वार पर उनको रोकने की कोशिश की गई थी लेकिन भीड़ में से अचानक पथराव चालू हुआ।

उसमें 8 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं जो जिला अस्पताल में एडमिट हैं, उनका उपचार चालू है, भीड़ को तीतर बितर करने के लिए हल्का बल प्रयोग किया गया है अभी स्थिति नियंत्रण में है, और जो भी कार्रवाई होगी की जाएगी, आपराधिक मामले दर्ज होंगे, विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज होंगे, शहर की शांति व्यवस्था को बाधित करने का काम किया गया है, उनको चिन्हित कर लिया गया है, पूरे आयोजन की और पूरे कार्यक्रम की वीडियोग्राफी कर ली गई है, और शहर में किसी को ऐसा अवसर प्रदान नही किया जाएगा कि वो कानून व्यवस्था अपने हाथ मे ले, गोंडवाना के कार्यकर्ता के घायल होने की जानकारी नही है। शहर की कानून व्यवस्था की स्थिति को ठीक रखा जाएगा किसी को अनुमति नही दी जाएगी। जो लोग आए थे वो उमरिया शहर के नही थे, आसपास के गांव के थे, अभी ऐसी कोई आवश्यकता नहीं लगती है कि प्रतिबंधात्मक धाराओ का उपयोग किया जाय, यदि ऐसी कोई आवश्यकता लगी तो वह भी की जाएगी।

गोड़वाना गड़तंत्र पार्टी और पुलिस के बीच हुई झड़प के बाद सुबह जांच टीम घटना स्थल पहुंच कर अलग अलग एंगल से सबूत जुटाती रही। वहीं शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए बीती रात से पुलिस का पहरा चौक चौराहों पर बराबर बना रहा। वहीं एडीजीपी शहडोल डी सी सागर रात में फ्लैग मार्च निकाल कर नगरवासियों को आश्वस्त किये की आप लोग निश्चिंत रहे पुलिस आपकी सुरक्षा में तैनात है।

वहीं जिले में कल हुए लाठीचार्ज एवं पुलिस के ऊपर किये गए पथराव मामले में

जिले की एस पी निवेदिता नायडू ने बताया कि अभी 37 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, बाकी लोगों की तलाश की जा रही है। कुल 80 लोगों पर अभी प्रकरण दर्ज किया गया है जिसमे गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राधेश्याम ककोडिया सहित अन्य लोग शामिल हैं।
वहीं पुलिस ने जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं जिला पंचायत सदस्य ओमकार सिंह बबलू को भी गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से जेल भेज दिया गया है।
पुलिस ने बताया कि इनके ऊपर अपराध क्रमांक 511/23 धारा 353, 307, 332, 333, 337, 395, 397, 147, 148, 149, 188, 114, 115, 117, 294, 323, 342, 504, 506, 120 बी आईपीसी और धारा 3 लोक संपत्ति नुकसानी निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है।
वहीं पुलिस ने 5 पिकअप वाहन और 10 मोटरसाइकिल भी घटना स्थल से जप्त किया है। अभी भी पुलिस लगातार लोगों को चिन्हित कर तलाश कर ला रही हैं।

जिनको गिरफ्तार किया गया है उनमें से 37 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इन सभी को गिरफ्तार कर बुधवार को न्यायालय में पेश किया है। मुख्य रूप से जिन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, उनमें मुख्य रूप से राधेश्याम ककोडिया, सूर्यपाल सिंह अर्मो, लोचन सिंह टेकाम, सहजीत सिंह, गुड्डा परस्ते, चैन सिंह, नरेश सिंह पठारी सरपंच, खेलन सिंह, जय सिंह, बिहारी सिंह, जगत नारायण सिंह, चन्द्र भान सिंह, भगवत सिंह, ज्ञानेंद्र सिंह, वीरेंद्र सिंह, विजय सिंह, भाव सिंह, किरण सिंह, देव शरण सिंह, धनपत सिंह, रामदयाल सिंह, राम विशाल सिंह, गुलभरन सिंह, गोविंद बैगा, रामचरित्र सिंह, ज्ञान सिंह, रमेश सिंह, भदन सिंह, बाबू राम सिंह, ईश्वर सिंह उइके, लखन सिंह, गोकुल सिंह, मोले सिंह, दया राम सिंह, जयप्रकाश सिंह, वृंदावन सिंह, अरविंद टेकाम, ओमकार सिंह, अंबुज सिंह, अजेश चौधरी एवम अन्य शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here