Home Uncategorized 3 माह की मेहनत के बाद हुआ blind murder का खुलासा 1...

3 माह की मेहनत के बाद हुआ blind murder का खुलासा 1 गिरफ्तार 1 फरार

122
0

पहले दोस्तों ने पिलाई शराब, बाद में कर दिया murder, अंधी हत्या का हुआ खुलासा, हत्या में शामिल एक friend गिरफ्तार दूसरा फरार

Umaria – जिले के Naurojabad थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम आमाडोंगरी से 17 December 2023 की सुबह थाने में सूचना मिली कि किसी युवक की deadbody गांव के बीचोबीच पंचायत भवन के पास पड़ी है।

3 माह की मेहनत के बाद हुआ blind murder का खुलासा 1 गिरफ्तार 1 फरार

सूचना मिलते ही नौरोजाबाद पुलिस घटना स्थल पर पहुंच कर शिनाख्त करने की कोशिश की तो पता चला कि मृतक विंध्या कोल माइंस कालोनी में बने बटुकेश्वर मंदिर के पास का रहने वाला पुष्पेंद्र उर्फ सल्लू मिश्रा उम्र 30 वर्ष पुत्र सूर्यभान मिश्रा है।

3 माह की मेहनत के बाद हुआ blind murder का खुलासा 1 गिरफ्तार 1 फरार

Police शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाई और हर angle से जांच करने में जुट गई। घटना स्थल से मिले साक्ष्य के आधार पर पुलिस ने देहाती नालसी लेकर हत्या का प्रकरण दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दिया। दूसरी तरफ जिले की एसपी निवेदिता नायडू ने भी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए 10 हजार रुपये के ईनाम की घोषणा कर दिया।

3 माह की मेहनत के बाद हुआ blind murder का खुलासा 1 गिरफ्तार 1 फरार

Police लगातार प्रयास करती रही हर तरफ मुखबिर भी लगाई और हर संदिग्ध पर नजर बनाए रही। अथक प्रयास के बाद अंततः सफलता मिल गई। Naurojabad T I अरुणा द्विवेदी बताईं कि मृतक पुष्पेंद्र उर्फ सल्लू मिश्रा पिता सूर्यभान मिश्रा निवासी विंध्य कालोनी दिनांक 16 दिसंबर को अपने दो Friend ओम प्रकाश बैगा एवम रामपाल बैगा के साथ बैठ कर शराब का पिया और कुछ शराब लेकर कर विंध्या से कुछ दूर ग्राम आमाडोंगरी चला गया था, रास्ते मे बाइक गिर गई फिर दोनो वहां पहुंच कर आपस मे विवाद करने लगे जिस पर पंचायत भवन के सामने दोनो दोस्त मिल कर सल्लू को मारने लगे और सल्लू की मौत हो गई।

3 माह की मेहनत के बाद हुआ blind murder का खुलासा 1 गिरफ्तार 1 फरार

दोनो सल्लू को dead समझ कर मौके से भाग गए। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ओम प्रकाश बैगा पिता कमलेश बैगा निवासी ग्राम आमाडोंगरी को गिरफ्तार करने में सफल हो गई वहीं दूसरे friend राम पाल बैगा की तलाश जारी है, हालांकि पूरे मामले का खुलासा राम पाल की गिरफ्तारी के बाद ही हो पायेगा।

3 माह की मेहनत के बाद हुआ blind murder का खुलासा 1 गिरफ्तार 1 फरार

इस मामले को सुलझाने में नौरोजाबाद T I अरुणा द्विवेदी के साथ S I रसिया साकेत, S I वेद प्रकाश सिंह, आरक्षक ब्रजेश यादव की अहम भूमिका रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here