Home क्राइम रिटायर्ड रेल कर्मी से कट्टे की नोक पर निकलवाये 10 लाखरुपये

रिटायर्ड रेल कर्मी से कट्टे की नोक पर निकलवाये 10 लाखरुपये

568
0

वायरल सीसीटीवी फुटेज में भी पीड़ित के साथ बैंक में और बाइक से जाते हुए भी आरोपी दिख रहा है।

उमरिया – कोतवाली थाना अंतर्गत आने वाली सिविल लाइन चौकी क्षेत्र के ग्राम धनवाही निवासी रिटायर्ड रेलवे कर्मी गंगा राम पिता स्वर्गीय बेसाहु यादव उम्र 60 वर्ष के साथ कट्टे की नोक पर धमकी देकर उनके बैंक खाते से 10 लाख रुपये निकलवा लिए गए। घटना के बाद से ही पूरा परिवार सदमे में है, वही पीड़ित वृद्ध गंगा राम ज़िंदगी भर की कमाई गंवा कर सुध बुध खोने के बाद पुलिस से न्याय की गुहार लगा रहा है। इस मामले की लिखित शिकायत भी परिजनों ने सम्बंधित सिविल लाइन चौकी भरौली को घटना के 6 दिनों बाद 20 सितंबर को किया था, जिस पर अपेक्षित कार्यवाही न होता देख शनिवार को पुनः कोतवाली थाने में पीड़ित ने शिकायत किया है, जिसके बाद थाना प्रभारी राजेश चंद मिश्रा ने मामले को गम्भीरता से लिया और प्रकरण दर्ज करवा कर मामले के जांच के निर्देश दिए है।

पीड़ित रेल्वे रिटायर्ड गंगा राम की माने तो दो अज्ञात युवक 11 सितंबर को धनवाही स्थित उसके घर आकर खेत मे जेसीबी मशीन से खेत बनाने की बात कह रहे थे, बाद में एक दिन बाद बिना बताए खेत मे जेसीबी की मदद से खेत की मेढ़ बनाकर बिना बताए चले गए थे, बाद में 14 सितंबर को आकर कहे कि आपके खेत मे जो जेसीबी मशीन से काम किया गया है वो रेलवे की थी, जिस वजह से आप और हम पूरी तरह फंस गए है। इस दौरान घर पर दो बाइक से चार अज्ञात युवक आ गए थे। उन्होंने कहा कि साहब हाइवे स्थित सड़क पर है, चलो मामला सेटल्ड कर लेते है, कुछ रास्ता निकल जायेगा।
45 लाख रुपये की मांग किये बाद में 10 लाख रुपये में हुआ समझौता

पीड़ित रिटायर्ड रेलवे कर्मी से रकम ऐंठने का जो तरीका बदमाशों ने ईजाद किया, वह मजे हुए शातिर बदमाशों के बड़े खेल की ओर इशारा करता है। आरोपियों ने दो युवकों को घर पर रोककर पीड़ित को बाइक में बैठा कर सड़क पर ले आये, जहाँ चार पहिया वाहन में तीन अन्य लोग मौजूद थे।
पीड़ित वृद्ध के दामाद अमरनाथ यादव निवासी जमुनिया की माने तो चार पहिया वाहन में बैठे अज्ञात लोग देखते ही धमकी देने लगे और पहले 45 लाख की मांग की गई और फिर 10 लाख में पूरे मामले को खत्म करने की बात तय हो गई। इस बीच पीड़ित पैसा न होने की दुहाई दिया तो घर पर मौजूद उसकी पत्नी को जान से खत्म करने की धमकी देने लगे। उनकी धमकी से रिटायर्ड वृद्ब काफी डर गया, बाद में दो लड़कों ने पीड़ित को बाइक में बैठा कर घर उसके घर धनवाही ले गए और बैंक पासबुक एवम ज़रूरी दस्तावेज लेकर पीड़ित को सेंट्रल बैंक शाखा उमरिया ले गए जहाँ से खाते से पूरी रकम निकाल कर चंपत हो गए।


इस बीच बैंक के अंदर एक अज्ञात युवक पीड़ित के साथ मौजूद था, जो बैंक की सीसीटीवी फुटेज में भी दिख रहा है और बाहर निकल कर बाइक से जाते भी दिख रहा है। वहीं रिटायर्ड रेलवे कर्मचारी ने बताया कि बैंक मैनेजर ने भी इतनी बड़ी रकम आहरण करने का कारण पूंछा तो साथ मे जो व्यथित था उसने आवश्यक कार्य और बीमार होना बता दिया जिससे बैंक मैनेजर आश्वस्त होकर रकम आहरण करने की अनुमति दे दिए। अब अगर इस सनसनीखेज आरोप में सच्चाई है तो निश्चित ही बेख़ौफ़ होकर दिन दहाड़े लूट की यह घटना पुलिस के लिए बडी चुनौती है। मीडिया के हस्ताक्षेप के बाद शनिवार को पीड़ित पक्ष देर शाम कोतवाली पहुंचा है और थाना प्रभारी राजेश चंद मिश्रा को पूरे घटनाक्रम की विस्तृत जानकारी दी गई। थाना प्रभारी ने अविलंब इस मामले में प्रकरण पंजीबद्ध कर मामले के जांच के निर्देश दिए है। देखना होगा पुलिस कब तक ऐसे शातिर आरोपियों को गिरफ्त में लेती है।


वहीं टीआई राजेश चंद्र मिश्रा ने बताया कि हम जल्द ही आरोपी तक पहुंच जाएंगे और हमने कार्रवाई शुरू कर दिया है।

वहीं अगर देखा जाय तो हाइवे में जहां आरोपी फोरव्हीलर से खड़े थे वह जगह सिविल लाइन चौकी और यातायात थाने से मात्र 500 मीटर की दूरी पर है साथ ही जिला मुख्यालय में पुलिस विभाग द्वारा लगाए गए कैमरे शो पीस बन कर रह गए हैं। यदि उनको चालू करवा दिया जाय तो आरोपियों की पतारसी में बहुत मदद मिल सकेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here