Home क्राइम हत्या के आरोपी पकड़े गए

हत्या के आरोपी पकड़े गए

592
0

सुरेन्द्र त्रिपाठी

हत्या के आरोपी पकड़े गये
उमरिया – कोतवाली थाना क्षेत्र में आदिवासी युवक की हुई हत्या के ईनामी आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार। एस डी ओ पी ने किया खुलासा।
उमरिया कोतवाली थाना क्षेत्र के ग्राम उजनिया में 2 दिन पूर्व जन्म दिन मनाने के दौरान हुई चाकूबाजी की घटना में आदिवासी युवक गुलाब कोल की हुई हत्या और उसके छोटे भाई धीरज कोल एवं शिव चरण कोल को गम्भीर घायल करने वाले चारो आरोपियों विकास सेन उर्फ शिवा, रवि सेन उर्फ डॉक्टर, प्रकाश सेन उर्फ राजा और विवेक रजक उर्फ गोलू को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। एस डी ओ पी डॉक्टर जितेन्द्र जाट ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 5 अगस्त की रात में अविनाश कोल पिता महेश कोल निवासी ग्राम उजनिया ने थाना आकर बताया कि मेरे चाचा राजू कोल की लड़की शीतल कोल के जन्मदिन का कार्यक्रम था जिसमें रिश्तेदार एवं गांव मोहल्ले के लोग आए थे पार्टी में शिवा सेन, रवि सेन, गोलू रजक और राजा सेन भी आए हुए थे सभी लोगों के साथ डीजे बजा कर नाच गाना कर रहे थे मैं भी उन्हीं में साथ में नाच रहा था सभी लोग अपने अपने पसंद के गाने बजाने लगे 9:30 बजे रात के करीब गुलाब कोल डीजे से लीड निकाल कर अपने घर चला गया जिससे डीजे बंद हो गया तभी उसके पीछे शिवा सेन और रवि सेन भी घर चले गए वहां उन्होंने जानते हुए कि ये लोग आदिवासी हैं, उसके बाद मां बहन की गंदी गंदी गाली देकर लीड मांगने लगे गुलाब ने लीड देने से मना किया तो उसे कालर पकड़कर घर के आंगन में धक्का-मुक्की कर पटक दिए उसी समय गोलू रजक और राजा सेन भी आकर एक राय होकर मां बहन की गंदी गंदी गाली देते हुए हाथ मुक्के से मारने लगे तभी बीच बचाव के लिए शिवचरण कोल धीरज कोल दौड़कर आये और बीच बचाव करने लगे तभी शिवा अपने पास रखे हुए चाकू से गुलाब के सीने में मार दिया, राजा सेन एवं रवि सेन ने अपने पास से चाकू निकालकर धीरज को पेट में तथा शिवचरण को सीने में चाकू मार दिया चाकू मारने की चोट से गुलाब की मृत्यु हो गई और यह दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए जिस पर कोतवाली थाने में अपराध क्रमांक 396/21 धारा 294, 324, 307, 302, 34 ताजी राते हिंद 3(2)(V), 3(2)(VI), 3(1)(द), 3(1)(ध), एससी एसटी एक्ट का प्रकरण कायम किया गया और आज सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जा रहा है।
गौरतलब है कि जिले के एस पी ने चारों आरोपियों पर 5 – 5 हजार का ईनाम घोषित किया गया था और चारो आरोपी 24 घंटे में गिरफ्तार कर लिए गए लेकिन बड़ी – बड़ी चोरियों के आरोपियों को पुलिस अभी तक गिरफ्तार नही कर पाई है, आवश्यकता है उन आरोपियों को भी गिरफ्तार करने की, ताकि जिले के लोग चैन की सांस ले सके।

पकड़े गए आरोपी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here