Home वाइल्डलाइफ गए थे करंट लगा कर सुअर का शिकार करने मर गया तेंदुआ

गए थे करंट लगा कर सुअर का शिकार करने मर गया तेंदुआ

136
0

तेंदुए के शिकारी गिरफ्तार, 4 शिकारियों में 2 सगे भाई शामिल 24 घण्टे के अंदर वन अमले ने मामले का किया खुलासा, आज करेंगे न्यायालय में पेश

उमरिया – वन परिक्षेत्र घुनघुटी के औढेरा गांव के बाहर बने राजस्व क्षेत्र के कुंये से दुर्गन्ध आने पर ग्रामीणों ने वन विभाग को सूचना दिया कि कुंये से बदबू आ रही है, जिस पर वन अमला तत्काल मौके पर पहुंचा और कुंये का परीक्षण किया जिसमें बंधी हुई बोरी में कुछ पड़ा मिला। जब बोरी को बाहर निकलवाया गया तो उसमें वयस्क मृत मादा तेंदुये का शव मिला, जिसकी सूचना उच्च अधिकारियों को दी गई और एसडीओ वन पाली दिगेन्द्र सिंह ने मृत तेंदुए का पोस्टमार्टम कराया जिसमे पता चला कि बिजली का करंट लगा कर अवैध शिकार किया गया है और शव लगभग 7 से 8 दिन पुराना है।

कल से लगातार वन विभाग की टीम सुरागरसी में लगी रही जिसमें कल एक संदिग्ध आरोपी को वन विभाग ने अपनी अभिरक्षा में लेकर पूंछ तांछ शुरू कर दिया और उसी की निशादेही पर अन्य आरोपियों को अपने कब्जे में लेकर पूंछतांछ शुरू कर दिए।

इस मामले में पाली एसडीओ दिगेन्द्र सिंह ने बताया कि सभी चारों आरोपी जिसमें बाबू लाल उम्र 26 वर्ष एवम अनिल सिंह उम्र 23 वर्ष पिता कृष्णपाल सिंह एवं इन दोनों के अलावा राममनोहर पिता ददई सिह उम्र 36 वर्ष, ललन सिंह पिता उमाशंकर सिंह उम्र 31 वर्ष निवासी ग्राम ओढेरा के हैं।


इन आरोपियों के विरुद्ध पीओआर क्रमांक 7763/14 दिनांक 23/01/2024 काटा गया है और वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई है।उन्होंने यह भी बताया कि सभी आरोपियों को न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है। साथ जी पाली एसडीओ दिगेन्द्र सिंह ने यह भी बताया कि इस मामले में मुखबिर की सूचना और संदेह के आधार पर ग्राम औढेरा निवासी अनिल उर्फ गोलू को अपनी अभिरक्षा में ले लिया गया था, उसी ने खुलासा किया था कि हम लोग जंगली सुअर का शिकार करने के लिए करंट लगाए थे जिसमें ये तेंदुआ फंस कर शिकार हो गया, जिसके चलते बोरी में भर कर कुंये के फेंक दिए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here