Home ख़बरे हटके मांगे नही मानी तो होगा उग्र आंदोलन

मांगे नही मानी तो होगा उग्र आंदोलन

524
0

सुरेन्द्र त्रिपाठी

उमरिया 13 अक्टूबर – जिले से होकर गुजरने वाली ट्रेन सारनाथ एक्सप्रेस लाकडाउन के पहले उमरिया और चंदिया में रुकती थी लेकिन अब दुबारा आज से चालू होने पर उमरिया और चंदिया का स्टापेज समाप्त कर दिया गया जिससे आक्रोशित जिला नागरिक मंच कलेक्टर, एस पी को ज्ञापन देकर मांग किया है कि उमरिया और चंदिया में ट्रेन को रोका जाए नही तो होगा उग्र आंदोलन।

पुष्पराज सिंह


उमरिया स्टेशन में लाकडाउन के पहले दुर्ग छपरा सारनाथ एक्सप्रेस से लेकर सभी गाड़ियां रुकती थी, विश्व विख्यात बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व घूमने वाले पर्यटकों के लिए भी उमरिया स्टेशन ही मुख्य स्टेशन है और आज से कटनी बिलासपुर रेल खंड में सारनाथ एक्सप्रेस चालू हो रही है लेकिन उमरिया और चंदिया स्टेशनों की कटौती रेल्वे विभाग द्वारा कर दी गई जिससे जिले के नागरिक, वकील, व्यवसायी एवम सभी वर्ग के लोगों में काफी आक्रोश है, जिसके चलते जिला नागरिक मंच के द्वारा जिले के कलेक्टर, एस पी सभी को ज्ञापन देकर मांग किया गया कि सारनाथ एक्सप्रेस को तत्काल उमरिया और चंदिया में पूर्व की भांति रोका जाए अन्यथा कभी भी उग्र आंदोलन किया जा सकता है।


जिले के कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव कहे कि

संजीव श्रीवास्तव कलेक्टर उमरिया

जिला नागरिक मंच के द्वारा बताया गया है कि सारनाथ एक्सप्रेस रेगुलर ट्रेन थी और इसका स्टापेज चंदिया एवम उमरिया में था लेकिन अब इसको स्पेशल ट्रेन बना कर चालू किया जा रहा है जिसमें उमरिया और चंदिया में स्टापेज नही दिया गया है जिससे उमरिया की जनता आहत है, इस बारे में रेल्वे प्रशासन को अवगत करा दिया जाएगा।

ज्ञापन


गौरतलब है कि जिले में यदि रेल प्रशासन सारनाथ एक्सप्रेस को नही रोका तो निश्चित ही उग्र आंदोलन होगा और कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here