Home वाइल्डलाइफ संदिग्ध परिस्थितियों में फिर एक तेंदुए की मौत

संदिग्ध परिस्थितियों में फिर एक तेंदुए की मौत

543
0

उमरिया – जिले का विश्व विख्यात बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व एक बार फिर सुर्खियों में छा गया। अबकी बार फिर एक तेंदुए की मौत ने वन्य जीव प्रेमियों को निराश किया है।
मामला है बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के कोर जोन अंतर्गत बठान बीट के जोगीमढ़ी पहाड़ी के कक्ष क्रमांक आर एफ 312 का। जहां गश्त के दौरान गश्ती दल को संदिग्ध परिस्थितियों में मृत तेंदुए का शव मिला आनन-फानन में गश्ती दल ने उच्च अधिकारियों को सूचना दिया और मौके पर पहुंचे अधिकारी प्रथम दृष्टया ही बता दिए कि बाघ के साथ आपसी लड़ाई में तेंदुए की मौत हुई है। मौके पर पहुंचे अधिकारी ने डाग स्क्वायड को बुलवाकर और मैटल डिटेक्टर से पूरे क्षेत्र में सर्चिंग करवाया।

मृत्यु तेंदुए के गले में दांत और नाखून के निशान मिले वही बाघ के पग मार्क भी मिले साथ ही अधिकारियों ने बताया कि तेंदुए को घसीटने के निशान भी मिले हैं जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि बाघ के द्वारा ही तेंदुए का शिकार किया गया है।

वहीं बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के वन्य जीव चिकित्सक डॉक्टर नितिन गुप्ता ने बताया कि तेंदुए की मौत का कोई स्पष्ट कारण पता नही चल सका है, तेंदुआ बुढ़ापे की ओर था मेल तेंदुआ था उसके शरीर मे मगोट लग चुके थे कुछ हिस्सा जंगली जानवर भी खा चुके थे, उसकी उम्र 8 वर्ष से अधिक रही। कई दिन पुराना शव था 28 तारीख को गश्ती दल ने देख कर सूचना दिया था, कल उच्च अधिकारियों की मौजूदगी में मेरे द्वारा शव का पोस्टमार्टम कर उसके आर्गन और बिसरा को प्रिजर्व कर भेज दिया गया है वहीं शव को पार्क के उच्च अधिकारियों की मौजूदगी में जलवा दिया गया है।
गौरतलब है कि पार्क में होने वाली घटनाओं पर कुप्रबंधन के चलते विराम नही लग पा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here